बादल ने मोदी से पासपोर्ट की शर्त हटाने की मांग की

चंडीगढ़। शिरोमणि अकाली दल (शिअद) अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अनुरोध किया कि पाकिस्तान के साथ करतारपुर कॉरीडोर को लेकर किये करार में संशोधन करवाकर उस प्रावधन को हटवाया जाये जिसके तहत श्रद्धालुओं के लिए पासपोर्ट की अनिवार्यता है और इसके अलावा दस्तावेजीकरण को सरल व पुष्टि प्रक्रिया को भी सरल बनाया जाए।

 बादल ने प्रधानमंत्री को इस संबंध में पत्र लिखा है। उनके अनुसार पासपोर्ट की अनिवार्यता और जटिल प्रक्रिया के कारण ही पांच हजार श्रद्धालुओं के बजाय कुछ सौ श्रद्धालु ही करतारपुर साहब जा सके।

 बादल ने कहा कि वैसे भी पासपोर्ट पर प्रवेश अथवा निकासी का ठप्पा नहीं लग रहा तथा श्रद्धालुओं को केवल गुरूद्वारे तक जाने दिया जा रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि पाकिस्तान की तरफ से भी इस मुद्दे पर भ्रम की स्थिति है। जहां प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि श्रद्धालुओं को पासपोर्ट की आवश्यकता नहीं है वहीं वहां की सेना ने कहा कि यह एक पूर्व शर्त है जिसके बिना श्रद्धालुओं को नहीं आने दिया जाएगा।

शिअद अध्यक्ष के अनुसार इसके अलावा ग्रामीण और गरीब लोगों को पासपोर्ट बनाने का अतिरिक्त खर्चा प्रति व्यक्ति करीब दो हजार रुपये पड़ जाएगा। इसलिए पासपोर्ट की अनिवार्यता पूरी तरह समाप्त होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि इसके बजाय आधार कार्ड जैसा पहचान पत्र हो सकता है। उन्होंने कहा कि पंजीकरण की प्रक्रिया को भी सरल बनाना चाहिए। एक मोबाईल एप्लीकेशन बनाया जा सकता है। उन्होंने कहा कि पुलिस वेरीफिकेशन की प्रक्रिया दस दिन लेती है, इसका सरलीकरण कर ग्राम पंचायत अथवा वार्ड पार्षद को अधिकृत किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares