किसान आंदोलन में भाग ले रहे शहीद भगत सिंह के भतीजे Abhay Sandhu का निधन

Must Read

नई दिल्ली। देश के महान स्वतंत्रता सेनानी और शहीद भगत सिंह ( Shaheed Bhagat Singh ) के भतीजे अभय संधू ( Abhay Sandhu ) का शुक्रवार को निधन हो गया है. मोहाली के फोर्टिस अस्पताल में उन्होंने अंतिम सांस ली. अभय संधू किसानों साथ मिलकर तीनों कृषि कानूनों का विरोध कर रहे थे और सिंघु बॉर्डर पर जारी किसान आंदोलन ( Kisan Aandolan 2021 ) में पिछले कई दिनों से शामिल हो रहे थे. इसी दौरान वे कोरोना संक्रमण की चपेट में आ गए और उनकी तबीयत बिगड़ गई थी. उनके निधन से पूरे पंजाब में शोक की लहर दौड़ गई है. कई दिग्गज नेताओं सहित पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ( Capt.Amarinder Singh ) ने अभय संधू के निधन पर दुख जताया है.

यह भी पढ़ेंः- Rajasthan COVID Update: राजस्थान में राहत! बीते 48 घंटों में गिरी नए संक्रमितों की संख्या, लेकिन मौतें बरकरार

मुख्यमंत्री अमरिंद सिंह ने शोक जताते हुए ट्वीट किया है कि शहीद-ए-आजम भगत सिंह के भतीजे के निधन से काफी दुखी हूं. उनके परिवार के प्रति मेरी संवेदना है. मैं बताना चाहता हूं कि अभय संधू के इलाज में जितने भी रुपये खर्च हुए थे, उन्हें अब हम वहन करेंगे. वाहेगुरु उन्हें शांति प्रदान करे.

पंजाब के स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने शोक जताते हुए कहा है कि, अभय संधू एक सामाजिक कार्यकर्ता थे. वे कोरोना के बाद शरीर में दिखीं स्वास्थ्य जटिलताओं से उबरने में सफल नहीं रहे.

यह भी पढ़ेंः- पूर्व सीएम बयान : लाशों का समुद्र देखने के बाद भी पूर्व सीएम साहब ने कोरोना वायरस को जीने का अधिकार देने के पक्ष में दिया विवादित बयान

आपको बता दें कि देश में कोरोना की दूसरी लहर से पंजाब में भी कोरोना संक्रमितों की संख्या लगातार बढ़ोतरी पर है. यहां भी लोगों को कोरोना बड़ी संख्या में लील रहा है. बीते 24 घंटे में राज्य में कोरोना के 8,068 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 180 लोगों ने इस बीमारी से दम तोड़ दिया.

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

‘चित्त’ से हैं 33 करोड़ देवी-देवता!

हमें कलियुगी हिंदू मनोविज्ञान की चीर-फाड़, ऑटोप्सी से समझना होगा कि हमने इतने देवी-देवता क्यों तो बनाए हुए हैं...

More Articles Like This