पहल : राजस्थान में यहां तैयार हो रहा है दुनिया का पहला  ‘ब्रीथ बैंक’, जमकर हो रही है सराहना - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया|

पहल : राजस्थान में यहां तैयार हो रहा है दुनिया का पहला  ‘ब्रीथ बैंक’, जमकर हो रही है सराहना

Jodhpur: दुनियाभर में बने हुए  ब्लड बैंक के बारे में तो आपने सुना ही होगा  लेकिन अबस राजस्थान में बनने जा रहा है ब्रीथ बैंक (Breathe Bank) . जीं हां आपने ठीक सुना. ये दुनिया का पहला श्वास बैंक यानी कि ब्रीथ बैंक होगा. इसके लिए जोधपुर के भामाशाह द्वारा पहल की गई है . इसे बनाने के लिए कम से कम  500 ऑक्सीजन जेनरेटर जुटाने का लक्ष्य रखा गया है.  इस योजना के शुरू होने की घोषणा होने के बाद से शहर के भामाशाह बढ़-चढ़कर इसमें हिस्सा ले रहे हैं. इनमें इतना उत्साह है कि इन्होंने  पहले ही दिन में 128 ऑक्सीजन जेनरेटर की व्यवस्था भी कर ली है. आसे में  बैंक के जल्द पूरा होने के संबंध में  लोगों की उम्मीदें भी जाग गई हैंं. उम्मीद की जी रही है कि इससे आनेो वाले समय में शहर को ऑक्सीजन की  किल्लत से राहत मिलेगी.  ब्रीथ बैंक के संबंध में सबसे पहली विचार जोधपुर के शिक्षाविद और भारत विकास परिषद से संबंध रखने वाले समाजसेवी निर्मल गहलोत के मन में आया. इसके बाद  उन्होंने ऑक्सीजन सुविधा के मद्देनजर ब्लड बैंक ,प्लाज्मा डोनेट बैंक की तरह ही  ब्रीथ बैंक यानि श्वास बैंक कतरने की ठीन ली.

शहर के अन्य लोगों ने भी दिखाई रुची

निर्मल गहलोत के इस मनसा को शहर के लोगों का भी पूरा साथ मिला. बता दें कि  ऑक्सीजन जेनरेटर पर आधारित ये किट इजी टू यूज है. दी गई जानकारी के अनुसार प्रति मिनट इस ऑक्सीजन जेनरेटर से पांच लीटर ऑक्सीजन बन कर तैयार की जाती है. इस ऑक्सीजन जेनरेटर को कोई भी  व्यक्ति आसानी से उपयोग कर सकता है. बता दें कि अब तक तीन दर्जन से अधिक लोग इस स्वाश बैंक की मुहिम में अपनी भागीदारी दर्ज करा चुके हैं.  माना जा रहा है कि ऑक्सीजन जेनरेटर के स्थापित होने से आने वाले समय में अगर कोरोना का कहर जोधपुर पर होता है तो इससे लोगों को  ऑक्सीजन की कमी नहीं होगी.

इसे भी पढ़ें- Corona : मास्क ना पहनने को लेकर डॉक्टर पर ही लगा 10 हजार का जुर्माना, जानें पूरा मामला…

राज्य में हर तीसरे मरीज को ऑक्सीजन का जरूरत

बता दें कि राजस्थान में कोरोना का कहर देखने को मिल रहे है. स्थिति इतनी खराब है कि अस्पतालों में बेड तक नहीं मिल रहे हैं. आंकड़ों में सामने आया है कि  राज्य के लगभग हर तीसरे मरीज को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ रही है.  ऐसे में जोधपुर में शुरू की गई इस पहल की लोग जमकर तारीफ कर रही हैं. निर्मल गहलोत का कहना है कि  आने वाले  10 दिनों में हम अपने  500 ऑक्सीजन जेनरेटर का लक्ष्य पूरा कर लेंगे. इसके साथ ही एक पखवाड़े के भीतर जोधपुर को ऑक्सीजन जेनरेटर समर्पित कर दिए जाएंगे.

इसे भी पढ़ें- Corona Epidemic : राजस्थान पूर्व मुख्‍यमंत्री वसुंधरा राजे कहा, यह समय राजनीति नहीं, राज्य नीति पर चलने का है

Latest News

Rajasthan में फिर टल सकता हैं मंत्रिमंडल में फेरबदल, अगस्त तक करना होगा इंतजार!
जयपुर | Rajasthan Cabinet Reshuffle: पंजाब की राजनीति में चल रही उठापटक को सुलझाने के बाद अब कांग्रेस आलाकमानों का पूरा फोकस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

});