Bharat Bandh 27 Sept: कृषि कानूनों के विरोध में किसानों ने की घोषणा
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया| Bharat Bandh 27 Sept: कृषि कानूनों के विरोध में किसानों ने की घोषणा

27 सितंबर को ‘Bharat Bandh’ को मिला कई संगठनों का समर्थन, तीनों कृषि कानूनों के विरोध में किसानों ने की घोषणा

farmer pertest Haryana incident

नई दिल्ली | Bharat Bandh 27 Sept: देश में कृषि कानूनों के विरोध में 27 सितंबर को भारत बंद करने को लेकर वाम दलों ने लोगों से इसे सफल बनाने की अपील की है। वाम दलों ने केंद्र के तीनों कृषि कानूनों के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) के आहूत भारत बंद का समर्थन करने की अपील की है। कृषि कानूनों को पूरी तरह निरस्त करने की मांग को लेकर किसानों द्वारा किए जा रहे इस आंदोलन को 10वें महीने हो गए है। लेकिन अभी तक सरकार और किसानों के बीच हो चुकी कई वार्ताओं के बाद भी इसका समाधान नहीं निकल पाया है।

अखिल भारतीय बैंक अधिकारी परिसंघ का किसानों को समर्थन
27 सितंबर को आहूत ’भारत बंद’ को अखिल भारतीय बैंक अधिकारी परिसंघ (एआईबीओसी) ने अपना समर्थन देने की घोषणा की है। एआईबीओसी ने किसानों की मांगों को उचित ठहराते हुए सरकार से संयुक्त किसान मोर्चा यूनियन के साथ फिर से बातचीत करने की अपील की है। इसके साथ ही केन्द्र से तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने का अनुरोध किया।

यूनियन ने एक बयान में कहा है कि एआईबीओसी के सहयोगी और राज्य इकाइयां सोमवार 27 सितंबर को आहूत ’भारत बंद’ को लेकर पूरे देश में किसानों के विरोध प्रदर्शनों का समर्थन करेगी।

ये भी पढ़ें :- Punjab CM ‘चन्नी’ कल करेंगे Cabinet विस्तार, इन नए चेहरों को मिल सकती है जगह, दिग्गजों पर गिर सकती है गाज

आपको बता दें कि, इस किसान आंदोलन की अगुवाई कर रहा संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) 40 से अधिक कृषि संगठनों का प्रमुख संगठन है। ऐसे में सभी संगठन एक साथ खड़े होकर केन्द्र के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं। वाम दलों ने केन्द्र सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि केंद्र सरकार किसानों से बातचीत करने से इनकार कर रही हैं। वाम दलों ने केंद्र सरकार के इस ‘हठ’ की निंदा करते हुए मांग की कि नए कृषि कानूनों को तुरंत निरस्त किया जाए।

ये भी पढ़ें :- REET Exam 2021: राजस्थान में अध्यापक भर्ती के लिए कल होने जा रही अबतक की सबसे बड़ी परीक्षा! बंद रहेगी इंटरनेट सेवाएं

ये भी पढ़ें :- Delhi : कोर्ट से रेप केस में फंसे सांसद Prince Paswan को मिली अग्रिम जमानत, समर्थकों ने जताई खुशी

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
कांग्रेस को चेहरा पेश करना होगा
कांग्रेस को चेहरा पेश करना होगा