भूपेन्द्र ने किया भार्गव एवं मिश्रा के बयान पर पलटवार

भोपाल। मध्यप्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव एवं विधायक नरोत्तम मिश्रा के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि जब शिवराज सरकार ने नया एयर क्राफ्ट खरीदने का फैसला कैबिनेट में किया तक वे कहां थे।

कांग्रेस की ओर से आज जारी विज्ञप्ति के अनुसार श्री गुप्ता ने कहा कि वर्ष 2015 में शिवराज कैबिनेट के ऐसे ही फैसले में वे खुद भी सहभागी थे। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश सरकार के पास वर्तमान में 18 साल पुराने ट्विन इंजन एयर क्राफ्ट है जो लगभग 6 हजार 6 सौ लेण्डिग पूरी कर चुके है। एक एयर क्राफ्ट 1998 तथा दूसरा 2002 में निर्मित है।

इसे भी पढ़ें :- NHRC ने मांगी यौन शोषण की घटनाओं पर केन्द्र और राज्यों से रिपोर्ट

दूसरा एयर क्राफ्ट भी 4 हजार 1 सौ लेण्डिग पूरी कर चुका है और सुरक्षा की दृष्टि से ये क्राफ्ट असुरक्षित श्रेणी में आ सकते है। उन्होंने कहा कि अगस्त 2015 में शिवराज सिंह चौहान सरकार ने ही 80 करोड़ रूपये में एक नया एयर क्राफ्ट खरीदने की पहल कर केबिनेट में यह फैसला लिया था तथा पुराने 2 चौपर बेचने के लिए 10 करोड़ का आफसेट मूल्य बताया था । किन्तु पुराने चौपर के खरीदने के लिए उचित प्रस्ताव ना आने से यह फैसला क्रियान्वित नहीं हो पाया।

उन्होंने कहा कि कैबिनेट के इस फैसले की जानकारी तत्कालीन मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने ही प्रेसवार्ता में दी थी, अब वे किस तरह से इसका विरोध कर रहे हैं। गुप्ता ने कहा कि शासकीय एयर क्राफ्ट का सुरक्षित एवं फिट होना समय का तकाजा है। अगर इस तरह की खरीदी से भाजपा नेताओं द्वारा प्रदेश का नुकसान बताया जाता है तो श्री गोपाल भार्गव एवं नरोत्तम मिश्रा ने इस फैसले का 2015 में विरोध क्यों नहीं किया। जबकि वे उस कैबिनेट बैठक में उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares