Bhuvneshwar Kumar Become Father: पत्नी नूपुर ने दिया बेटी को जन्म
खेल समाचार | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Bhuvneshwar Kumar Become Father: पत्नी नूपुर ने दिया बेटी को जन्म

टीम इंडिया के घातक गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार के घर आई ‘लक्ष्मी’, पत्नी नूपुर ने दिया बेटी को जन्म

नई दिल्ली | Bhuvneshwar Kumar Become Father: टीम इंडिया के घातक तेज गेंदबाज (team india fast bowler) भुवनेश्वर कुमार (Bhuvneshwar Kumar) के घर लक्ष्मी का आगमन हुआ है। जी हां, भवनेश्वर कुमार पापा बन गए हैं और उनके यहां बेटी का जन्म हुआ है। भुवनेश्वर की पत्नी नूपुर नागर ने आज बुधवार को दिल्ली के एक अस्पताल में बेटी को जन्म दिया है। मेरठ जिला क्रिकेट एसोसिएशन के कोषाध्यक्ष राकेश गोयल ने इस शुभ समाचार की जानकारी दी है।

Bhuvneshwar Kumar Become Father: गोयल ने जानकारी देते हुए बताया कि, मां और बच्ची दोनों पूरी तरह से स्वस्थ हैं। भुवनेश्वर की पत्नी नूपुर मंगलवार को दिल्ली के एक अस्पताल में एडमिट हुई थीं। हालांकि, भुवनेश्वर कुमार तब वहां मौजूद नहीं थे। उनके गुरुवार को मेरठ स्थित आवास पर पहुंचने की संभावना है।

ये भी पढ़ें:- Ind Vs Nz Test : युवाओं पर होगा दारमदार, जानें क्या लगा पाएंगे बेड़ा पार…

नवंबर 2017 को मेरठ में हुई थी शादी 

टीम इंडिया के घातक गेंदबाज भुनेश्वर कुमार और नूपुर की शादी 23 नवंबर 2017 को मेरठ में हुई थी। आपको बता दें कि, कल ही उनकी शादी की चैथी सालगिरह थी और उसके ठीक एक दिन बाद ही उनकी बेटी का जन्म हुआ है।

ये भी पढ़ें:- दिल्ली में 3 दिसंबर तक पेट्रोल, डीजल वाहनों की एंट्री पर रोक, सिर्फ सीएनजी और इलेक्ट्रिक वाहनों की इजाजत

न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में जोरदार वापसी
31 वर्षीय भारतीय गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने न्यूजीलैंड के खिलाफ टी20 सीरीज में जोरदार वापसी करते हुए सभी को चैंकाया है। उन्होंने तीन मैचों में 7.50 की इकॉनमी रेट से 3 विकेट लिए। इस सीरीज में टीम इंडिया ने न्यूजीलैंड कोे 3-0 से हराते हुए सूपड़ा साफ कर दिया।

ये भी पढ़ें:- इस एक्ट्रेस का पहला प्यार है ‘कोच राहुल द्रविड़’

ये भी पढ़ें:- ओबीसी छात्र संघ ने सरकार से जाति जनगणना कराने, पीएम मोदी को 1 लाख पोस्टकार्ड भेजने का किया आग्रह

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सर्वोच्च न्यायालय की टिप्पणी, कहा- सुनवाई के लिए निश्चित अवधि तय करने का समय आ गया…
सर्वोच्च न्यायालय की टिप्पणी, कहा- सुनवाई के लिए निश्चित अवधि तय करने का समय आ गया…