अन्नदाताओं की समस्याओं को भूली भाजपा सरकार: सपा

प्रयागराज। समाजवादी पार्टी (सपा) ने आरोप लगाया है कि राज्य में सत्तारूढ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार यूरिया खाद की घोर किल्लत और कालाबाजारी से जूझ रहे किसानों की समस्याओं के बारे में सोचना भूल चुकी है।

सपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रदेश सचिव नरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने सोमवार को जिलाधिकारी के प्रतिनिधि ए सी एम प्रेमचंद्र मौर्य को किसानों की समस्याओं, यूरिया खाद की कमी, बिजली संकट , प्रवासी श्रमिक एवं रेहड़ी दुकानदारों आदि के मुद्दे को लेकर ज्ञापन सौंपने के बाद कार्यकर्तााओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि भाजपा सत्ता पाने के बाद किसानों को भूल चुकी है।

ए सी एम मौर्य ने ज्ञापन लेने के बाद आश्वासन दिया कि वह इस ज्ञापन में उठाए गए मुद्दों को जो कि स्थानीय स्तर पर हल हो सकते हैं उनके निराकरण का पूरा प्रयास करेंगे। ज्ञापन को शासन को भेजा जाएगा।

सिंह ने कहा कि एक तरफ कोरोना का भय है दूसरी तरफ यूरिया खाद का अभाव है। भय और अभाव को झेलने वाले अन्नदाताओं को सरकार भूल चुकी है l शासन और प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि 24 घंटे के भीतर खाद की किल्लत न दूर हुई तो समाजवादी किसानों के सवाल पर लाकडाॅउन तोड़ कर सड़क पर आने के लिए मजबूर होंगे ।

उन्होने कहा कि चुनाव से पहले किसानों के लिए बहुत लुभावने नारे दिए गये थे। आज उनको भूला दिया गया । किसानों की सुघ लेने वाला कोई नहीं है। यूरिया खाद की काला बाजारी हो रही है। सरकार इसपर कोई ध्यान नहीं दे रही है।

सपा के जिला प्रवक्ता दान बहादुर मधुर ने कहा कि कोरोना संकट के चलते रोजी रोटी खो चुके कमजोर और गरीब तबके के लोगों को रेहड़ी और पटरी पर भी नहीं बख्शा जा रहा है, जिससे इनके सामने रोजगार का घोर संकट पैदा हो गया है । जब तक इनके लिए रोजगार की उचित व्यवस्था नहीं की जाय तब तक उन्हे उजाड़ा न जाए ।

किसान नेता राजीव चंदेल ने यमुनापार के मेजा में 40 वर्षों से बंद पड़ी लालतारा डीही डिवाई नहर को चालू करने की मांग की । इस अवसर पर श्री नरेंद्र सिंह, दान बहादुर मधुर, राजीव चंदेल, हम्मद अस्करी, पूर्व प्रमुख संदीप यादव,हिमांशु कुमार सिंह, हरिश्चंद्र यादव एडवोकेट, संतलाल वर्मा, आर एन यादव, आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares