nayaindia भाजपा सरकार तानाशाही पर उतारू: योगेश - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

भाजपा सरकार तानाशाही पर उतारू: योगेश

प्रयागराज। समाजवादी पार्टी (पार्टी) के जिला अध्यक्ष योगेश चन्द्र यादव ने मंहगी शिक्षा, बेरोजगारी और बेहाल किसान की समस्या आदि को लेकर शांति पूर्वक जिलाधिकारी को ज्ञापन देने जा रहे कार्यकर्ताओं की गिरफ्तारी की निंदा करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) तानाशाही पर उतारू हो गयी है।

योगेश यादव ने पार्टी कार्यालय में आपात बैठक में कहा कि बेहाल किसान, महंगी शिक्षा, बेरोजगारी, निजीकरण में भ्रष्टाचार एवं ख़त्म हो रहे रोजगार, आरक्षण पर वार, प्रदेश मे बी. एड. प्रवेश मे दलित छात्रों के प्रवेश पर रोक आदि मुद्दों को लेकर ज्ञापन सौंपा जाना था । सपा के युवा फ्रांटल संगठनों के कार्यकर्ता शान्तिपूर्ण ढंग से जिलाधिकारी को ज्ञापन देने की तैयारी कर रहे थे l लेकिन पुलिस ने जबरन गिरफ्तार कर लिया ।

उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश सरकार के इशारे पर पुलिस ने एक दिन पहले ही सी आर पी सी की धारा 149 के तहत कई दर्जन सपा नेताओं और कार्यकर्ताओं को नोटिस जारी कर रोकने का प्रयास किया था जो अलोकतांत्रिक और तानाशाही रवैया है। उन्होने कार्यकर्ताओं के ख़िलाफ़ जारी नोटिस असंवैधानिक, मौलिक अधिकारों का हनन और औचित्य हीन बताया।

महानगर अध्यक्ष सैयद इफ्तेख़ार हुसैन ने गिरफ्तारी की घोर निंदा की है। उन्होने कहा कि भाजपा सरकार जनहित के मुद्दों पर पूरी तरह से फेल हो चुकी है। भाजपा की नीतियों के खिलाफ सपा सड़कों पर उतर कर संघर्ष के लिए तैयार हैं।

सपा के जिला प्रवक्ता दान बहादुर मधुर ने बताया कि ज्ञापन देने जा रहे करीब 91 युवा सपाईयों को कचेहरी परिसर से गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार कार्यकर्ताओं को पुलिस लाइंस ले जाया गया है। बैठक में जिलाध्यक्ष योगेश चन्द्र यादव, सैयद इफ्तेख़ार हुसैन, पंधारी यादव, रिचा सिंह, नरेंद्र सिंह, दान बहादुर सिंह मधुर आदि नेता गण पुलिस लाइंस पहुंचकर गिरफ्तार कार्यकर्ताओं से मुलाकात किया।

Leave a comment

Your email address will not be published.

18 − 2 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
पेपर लीक मामले में 9 लोगों के खिलाफ आरोप-पत्र
पेपर लीक मामले में 9 लोगों के खिलाफ आरोप-पत्र