Black Fungus in Rajasthan: Covid 19 से राहत के बाद Black Fungus हुआ घातक
कोविड-19 अपडेटस | ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया| Black Fungus in Rajasthan: Covid 19 से राहत के बाद Black Fungus हुआ घातक

Rajasthan में Covid 19 से राहत के बाद Black Fungus हो रहा घातक, बच्चों को ले रहा चपेट में

Black Fungus In Rajasthan

जयपुर | राजस्थान में पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण (Covid 19) के 22 नए मामले सामने आए हैं। राहत ये है कि इस दौरान किसी की भी कोरोना से मौत की खबर नहीं है। वहीं दूसरी और राज्य में ब्लैक फंगस (Black Fungus in Rajasthan) बेकाबू होता जा रहा है। अब यह रोग बच्चों और युवाओं को भी अपनी चपेट में लता रहा है।

आंकड़ों के अनुसार बीते 24 घंटे में 55 लोग कोरोना संक्रमण से ठीक होकर घर लौटे हैं। वहीं अब राज्य में 358 कोरोना मरीजों का इलाज जारी है। जबकि राजस्थान में कोरोना संक्रमण से अब तक कुल 8 हजार 951 लोगों की मौत हो चुकी है।

ये भी पढ़ें:- पूर्व सीएम Om Prakash Chautala का मोदी सरकार के खिलाफ हल्ला बोल, कल करेंगे संसद का घेराव

राजस्थान में बीत 24 घंटे के दौरान सबसे ज्यादा कोरोना के 6 नए मरीज उदयपुर में मिले हैं। इसी के साथ बांसवाडा में 4, जयपुर में 3 कोरोना के नए मामले सामने आए हैं। इसके अलावा भलवाड़ा- हनुमानगढ़ में दो-दो और अजमेर-बारां-बाड़मेर-बीकानेर व जोधपुर में एक-एक नया मरीज दर्ज किया गया है।

ये भी पढ़ें:- आज जंतर-मंतर पहुंचेंगे किसान, दिल्ली पुलिस ने दी प्रदर्शन करने की इजाजत

राज्य में ब्लैक फंगस हो रहा घातक, बच्चों को ले रहा चपेट में

Black Fungus in Rajasthan: राज्य में ब्लैक फंगस (Black Fungus) बेकाबू हो रहा है। जयपुर में इसके कई ऐसे केस सामने आ चुके हैं। ऐसे मरीजों का इलाज कर रहे वरिष्ठ डाॅक्टर ने बताया कि ब्लैक फंगस कई लोगों को दोबारा भी हो रहा है। अब यह बड़ों के साथ-साथ बच्चों में भी अपने पांव पसार रहा है। ऐसे में बड़ों के साथ अब बच्चों को भी सजग रहने की जरूरत है। ऐसा कुछ भी लक्षण दिखाई दे तो तुरंत डाॅक्टर से संपर्क करना चाहिए।

ये भी पढ़ें:-  Corona update: फिर 40 हजार पार संक्रमित, केरल में सप्ताहांत में पूर्ण लॉकडाउन लगाने का फैसला

वहीं, एंटीबॉडी टेस्ट में यह बात सामने आई है कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर में बच्चे भी प्रभावित हुए हैं। जयपुर के जे.के लोन अस्पताल में पोस्ट कोविड कॉम्प्लिकेशन के रुप में एमआईएससी के छह दर्जन से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *