Bihar: मछली खाने के लिए शादी समारोह में खून के प्यासे हुए दो पक्ष, 11 लोग घायल होकर पहुंचे अस्पताल - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | बिहार| नया इंडिया|

Bihar: मछली खाने के लिए शादी समारोह में खून के प्यासे हुए दो पक्ष, 11 लोग घायल होकर पहुंचे अस्पताल

गोपालगंज | Bloody Fight in Marriage: मछली खाने के लिए लोग एक-दूसरे के खून के प्यासे हो जाएंगे ये किसी नहीं सोचा होगा। लेकिन बिहार के गोपालगंज में ऐसा ही कुछ देखने को मिला जहां मछली के मुड़े खाने के लिए लोग एक दूसरे को मरने मारने को उतारू हो गए। इस खूनी झड़प में 11 लोग घायल हो गए। सभी घायलों को गोपालगंज सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है। घटना के बाद शादी समारोह में अफरा-तफरी मच गई।


घटना भोरे थानाक्षेत्र के सिसई टोला के भटवलिया गांव की बताई गई है। जहां 11 जून की रात को एक बारात में मछली के मुड़े नहीं परोसने पर दो पक्षों में जमकर झड़प हो गई। जिसमें दोनों पक्ष के 11 लोग घायल हुए हैं। घायलों को इलाज के लिए भोरे रेफरल अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें रेफर कर सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया। घटना के बाद दोनों पक्ष में तनाव व्याप्त है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

ये भी पढ़ें:- LOCK कर बैठी ये महिला खुद को , 6 सालों से नहीं निकली बाहर, लेकिन क्यों..

अस्पताल में भर्ती एक घायल के अनुसार, छठू गोंड के यहां शादी समारोह (Marriage Ceremony) में खिलाने के लिए मछली और चावल का रखा गया था। इस दौरान राजू गोंड और मुन्ना गोंड मछली परोस रहे थे। तभी पड़ोसी अजय गोंड और अभय गोंड अपने मेहमानों को लेकर आये खाना खाने लगे। खाने के लिए बैठे लोगों को पहले राउंड में दो-दो पीस मछली परोसी गई थी। दोबारा फरमाइश पर मछली के मुड़े नहीं दिये जाने से नाराज होकर उन्होंने राजू गोंड व मुन्ना गोंड से मारपीट कर दी और देखते ही देखते विवाह समारोह में दोनों पक्षों के बीच कुर्सियां चलने लगी। बारात में खाने को लेकर हुए इस हुई झड़प में कई लोग घायल हो गए जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया।

ये भी पढ़ें:- Patna: डाॅक्टरों ने किया कमाल, मैराथन ऑपरेशन कर मरीज के ब्रेन से क्रिकेट बाॅल से भी बड़ा Black Fungus निकाला बाहर

झगड़े की सूचना पर पहुंची पुलिस ने मामला शांत कराया गया। हथुआ एसडीपीओ ने कहा कि, पुलिस दोनों पक्ष के मामले की जांच कर रही है। अलग-अलग बयान दर्ज कर प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *