CBSE Exam 2021:  नहीं होंगी 10वीं की परीक्षा, 12 वीं के लिए 1 जून को होगा निर्णय - Naya India
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

CBSE Exam 2021:  नहीं होंगी 10वीं की परीक्षा, 12 वीं के लिए 1 जून को होगा निर्णय

New Delhi: CBSE बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित करने को लेकर काफी दिन से विवाद हो रहा था. स्टूडेंट के साथ ही अभिभावक भी लगातार परीक्षाओं को रद्द करने की मांग कर रहे थे. इसी बीच एक बड़ी खबर आई है कि CBSE बोर्ड की सेकेंड्री (10वीं) की परीक्षाओं को रद्द कर दिया है. इसके साथ ही सीनियर सेकेंड्री (12वीं) की परीक्षाओं को फिलहाल कोविड-19 की स्थिति को देखते हुए स्थगित कर दिया गया है.  ये फैसला प्रधानमंत्री मोदी , केंद्रीय शिक्षा मंत्री डॉ. रमेश पोखरियाल ‘निशंक’, शिक्षा सचिव और CBSE बोर्ड के अधिकारियों के साथ हुई बैठक में लिया गया है.  बता दें कि कोविड-19 महामारी के लगातार बढ़ रहे मामलों के बीच देश भर के स्टूडेंट्स पैरेट्स और टीचर्स के साथ- साथ विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री, कई नेताओं और जन-प्रतिनिधियों द्वारा CBSE बोर्ड की 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं को स्थगित या रद्द किये जाने की मांग की जा रही थी.

परीक्षाओं को रद्द करने की लगातार उठ रही थी मांग

बढ़ते कोरोना के संक्रमण को देखते हुए देशभर से CBSE की परीक्षाओं को रद्द करने की मांग देशभर से उछ रही थी. लगभग सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी कहा था कि इन परिस्थितियों मे परीक्षाओं का आयोजन संभव नही है. ऐसे में लगभग तय माना जा रहा था कि बैठक में परीक्षाओं के टलने पर सहमति बन सकती है. देशभर के अभिभावक भी लगातार परीक्षाओं को रद्द करने की मांग कर रहे थे.

125वी की परीक्षाओं की घोषणा पर 1 जून को होगा फैसला

बैठक के बाद ये स्पष्ट है कि परिक्षाओं को टाल दिया गया है.   CBSE की ओर से इस संबंध में  नोटिस जारी कर दिया है.  बोर्ड ने कहा है कि 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं 04 मई से 14 जून 2021 तक होनी थीं.  लेकिन इन्हें स्थगित कर दिया गया है.  ये परीक्षाएं अब कब ली जाएंगी, इसका फैसला 01 जून 2021 को कोविड-19 के हालात की समीक्षा के बाद लिया जाएगा. परीक्षा से कम से कम 15 दिन पहले नोटिस जारी कर सूचना दी जाएगी.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
गैर सरकारी संगठनों को नहीं मिली राहत
गैर सरकारी संगठनों को नहीं मिली राहत