CBI action naval officers नौसेना अधिकारियों पर सीबीआई की कार्रवाई
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| CBI action naval officers नौसेना अधिकारियों पर सीबीआई की कार्रवाई

नौसेना अधिकारियों पर सीबीआई की कार्रवाई

CBI arrests naval officers

नई दिल्ली। पनडुब्बी से जुड़ी गोपनीय सूचनाएं लीक करने के मामले में सीबीआई ने नौसेना अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की है। एजेंसी ने पनडुब्बी की खरीद और रखरखाव प्रक्रिया से जुड़ी सूचनाएं लीक करने के मामले में आरोपपत्र दायर किया है। इसमें नौसेना के दो मौजूदा कमांडर्स और दो रिटायर अधिकारियों सहित छह लोगों के नाम शामिल हैं। इन सभी पर भ्रष्टाचार निरोधक कानून और भारतीय दंड संहिता, आईपीसी के तहत मामला दर्ज हुआ है। जांच एजेंसी ने आरोपपत्र भी दाखिल की है।

सीबीआई ने बताया है कि आरोपी भारत की किलो क्लास पनडुब्बियों के मीडियम रिफिट लाइफ सर्टिफिकेशन या एमआरएलसी प्रोग्राम की गोपनीय सूचनाएं लीक कर रहे थे। रिपोर्ट के मुताबिक, दोनों सेवारत कमांडर विदेशी कंपनियों के लिए काम कर रहे रिटायर नौसेना अधिकारियों को गोपनीय सूचनाएं पहुंचाते थे। कमांडर एसजे सिंह इसी साल रिटायर हुए और फिर एक कोरियाई कंपनी के लिए काम करने लगे। यह कंपनी की भारतीय नौसेना के प्रोजेक्ट्स में दिलचस्पी रखती है। राष्ट्रीय सुरक्षा की वजह से एजेंसी ने आरोपपत्र सार्वजनिक नहीं किया है।

Read also Maharashtra : पूर्व गृहमंत्री Anil Deshmukh पर ED का शिकंजा, 6 नवंबर तक भेजे गए कस्टडी में

इस मामले में एक रियर एडमिरल सहित कम से कम 12 लोगों से पूछताछ की जा चुकी है। सीबीआई अब तक इस मामले में दिल्ली, मुंबई और हैदराबाद में 19 स्थानों पर छापे मार चुकी है। एजेंसी की ओर से तीन सितंबर को रिटायर नौसेना अधिकारियों रणदीप सिंह और एसजे सिंह को गिरफ्तार करने के बाद यह मामला सामने आया था। गिरफ्तारी के कुछ समय बाद कमोडोर रणदीप सिंह की संपत्ति की तलाशी के दौरान करीब दो करोड़ रुपए नकद बरामद हुए। जांच के आधार पर सीबीआई ने पश्चिमी नौसेना कमान मुख्यालय में तैनात कमांडर अजीत कुमार पांडे को गिरफ्तार किया।

Tags :

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
कोरोना के कारण बंद हुए स्कूल, अब प्रेगनेंट पाई जा रही हैं छात्राएं…
कोरोना के कारण बंद हुए स्कूल, अब प्रेगनेंट पाई जा रही हैं छात्राएं…