CBSE Board Exams 2022: CBSE Board Exams पैटर्न में बड़ा बदलाव
ताजा पोस्ट | देश | लाइफ स्टाइल | यूथ करियर| नया इंडिया| CBSE Board Exams 2022: CBSE Board Exams पैटर्न में बड़ा बदलाव

CBSE Board Exams पैटर्न में बड़ा बदलाव, नए तरीके से होगी साल में दो बार परीक्षा, नया सिलेबस जल्द

CBSE Board Exams 2022

नई दिल्ली | CBSE Board Exams 2022: देश में कोरोना महामारी से उत्पन्न संकट के बाद केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने एकेडमिक ईयर 2021-22 के लिए बड़ा कदम उठाते हुए स्पेशल असेसमेंट स्कीम के तहत शिक्षा सत्र 2022 में दो बार परीक्षा आयोजित कराने का फैसला लिया है। जिसके लिए सिलेबस इस महीने के आखिर तक जारी कर दिया जाएगा। साथ ही शैक्षणिक सत्र 2021-22 के पाठ्यक्रम को विषय विशेषज्ञों द्वारा अवधारणाओं और विषयों के संबंध को ध्यान में रखते हुए एक दो अवधि में विभाजित किया जाएगा।

ये भी पढ़ें:- PM Modi Cabinet के विस्तार को लेकर आज प्रमुख बैठक, होंगे बड़े फैसलें, कई मंत्रियों पर गिर सकती है गाज!

परीक्षा दो भागों में विभाजित
CBSE Board Exams 2022: नए सत्र में परीक्षाएं दो टर्म में होंगी। कोर्स का सिलेबस दोनों के बीच 50-50 फीसदी के अनुरूप विभाजित होगा। CBSE ने पहले टर्म की परीक्षाएं नवंबर-दिसंबर और दूसरे टर्म की परीक्षा मार्च-अप्रैल में कराने का बड़ा निर्णय लिया है।

ये भी पढ़ें:- राज्यपालों के तबादले, नियुक्तियों की तैयारी

पहला टर्म 90 मिनट और दूसरा टर्म 2 घंटे का
सीबीएसई ने परीक्षा के टाइमिंग और पैटर्न में बदलाव करते हुए सर्कुलर में कहा है कि पहले टर्म की परीक्षा 90 मिनट की ही होगी और इसमें बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाएंगे। वहीं दूसरे टर्म की परीक्षा की समय सीमा 2 घंटे की होगी। इसमें सभी तरह के प्रश्न पूछे जाएंगे। साथ बोर्ड ने यह चेताया है कि यदि कोरोना महामारी से स्थिति सामान्य नहीं होने पर दूसरे टर्म की परीक्षा भी 90 मिनट की हो सकती है। इसमें भी बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जा सकते हैं।

ये भी पढ़ें:- क्या शिव सेना-भाजपा में कोई खिचड़ी?

डिजिटल फॉर्मेट में स्कूलों को तैयार करनी होगी प्रोफाइल
CBSE सर्कुलर के अनुसार, 9वीं और 10वीं के लिए इंटर्नल असेसमेंट में तीन पिरियोडिक टेक्स्ट्स, पोर्टफोलियो और प्रैक्टिकल वर्क शामिल किए जाएंगे। जबकि 11वीं और 12वीं के इंटर्नल असेमेंट में यूनिट टेस्ट/प्रेक्टिकल टेस्ट/प्रोजेक्ट्स भी शामिल होगा। बोर्ड ने स्कूलों से साल भर किए गए सभी असेमेंट के लिए छात्रों की प्रोफाइल तैयार करने और इसका डिजिटल फॉर्मेट बनाने के लिए कहा है। बता दें कि कोरोना महामारी की दूसरी लहर से हुई तबाही के बीच अप्रेल में पीएम मोदी ने 10वीं और जून में सीबीएसई 12वीं की परीक्षा रद्द करने का फैसला लिया था।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *