ताजा पोस्ट | देश | दिल्ली

Chandra Grahan 2021 : 26 मई को होगा साल का पहला चंद्र ग्रहण, ये रहेगा समय और यहां देगा दिखाई

नई दिल्ली। Chandra Grahan 2021: साल का पहला चंद्र ग्रहण ( Chandra Grahan ) 26 मई को लगने वाला है। यह चंद्र ग्रहण दोपहर के समय 12 बजकर 18 मिनट पर शुरू होगा। लेकिन यह चंद्र ग्रहण (lunar eclipse 2021) दिन में होने की वजह से भारत में दिखाई नहीं देगा। भारत में यह उपछाया चंद्र ग्रहण होगा। भारत में नहीं दिखने से सूतकाल भी मान्य नहीं होगा। बता दें कि इस साल चार ग्रहण पड़ेंगे। पहला 26 मई को चंद्र ग्रहण है और दूसरा 19 नवंबर को। इसी तरह 10 जून को पहला सूर्य ग्रहण है और दूसरा 4 दिसंबर को पड़ेगा।

कुल अवधि 7 घंटे 1 मिनट
26 मई को लगने जा रहे चंद्र ग्रहण की कुल अवधि 7 घंटे 1 मिनट की बताई जा रही है। यानी 26 मई को ये चंद्र ग्रहण दोपहर 12 बजकर 18 मिनट पर शुरू होगा और 7 बजकर 19 मिनट पर समाप्त होगा।

यह भी पढ़ें:- CHARDHAM YATRA POSTPOND : कोरोना ने चारधाम यात्रा पर निर्भर व्यापारियो की फिर तोड़ी कमर… सीएम रावत ने निलंबित की चारधाम यात्रा

होगा उपछाया चंद्र ग्रहण
ये चंद्र ग्रहण दिन में होने की वजह से भारत में दिखाई नहीं देगा। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, जब चंद्र ग्रहण पूर्ण हो तो इसका सूतक काल मान्य होता है, लेकिन इस बार जो चंद्र ग्रहण होगा वो उपछाया वाला होगा। बता दें कि सूतकाल ग्रहण के 9 घंटे पहले शुरू हो जाता है और ग्रहण खत्म होने तक रहता है।

सूतक काल मान्य नहीं होगा
सूतक काल के दौरान कोई भी अच्छे कार्य नहीं किए जाते हैं। ग्रहण के दौरान सोना और पूजा पाठ करना भी अनुचित बताया गया है। ग्रहण काल के दौरान बाल और नाखून काटना भी वर्जित है। मान्यता के अनुसार इस समय कुछ खाना-पीना भी नहीं चाहिए। लेकिन 26 मई वाला चंद्र ग्रहण दिखाई नहीं देने की वजह से भारत में इसका असर नहीं होगा और सूतकाल भी मान्य नहीं होगा।

यह भी पढ़ें:- इंसान को चांद पर पहुंचाने वाले Michael Collins दुनिया से अलविदा, नासा ने कहा- सच्चा Astronaut खो दिया

भारत में नहीं इन देशों देगा दिखाई
वर्ष 2021 का पहला चंद्र ग्रहण जापान, बांग्लादेश, सिंगापुर, बर्मा, दक्षिण कोरिया, फिलीपींस, उत्तरी एवं दक्षिणी अमेरिका, प्रशांत और हिंद महासागर में दिखाई देगा ।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *