chardham yatra postponed : सीएम रावत ने चारधाम यात्रा का आदेश लिया वापिस, श्रद्धालुओं के लिए यात्रा फिर हुई स्थगित - Naya India
देश | उत्तराखंड | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

chardham yatra postponed : सीएम रावत ने चारधाम यात्रा का आदेश लिया वापिस, श्रद्धालुओं के लिए यात्रा फिर हुई स्थगित

कल सीएम रावत ने चारधाम यात्रा को खोलने का आदेश दिया था। कोरोना के कम होते मामले को देख यह निर्णय लिया था। चारधाम यात्रा उत्तराखंड के कुछ जिलों के लिए खोली गई थी। लेकिन अब यह आदेश वापिस ले लिया गया है। उत्तराखंड की सीएम रावत की सरकार ने चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी के लोगों के लिए चारधाम यात्रा खोलने के आदेश को रद्द कर दिया गया है। उत्तराखंड की तीरथ सिंह रावत सरकार में कैबिनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा है कि चारधाम यात्रा खोलने को लेकर नैनिताल हाईकोर्ट में सुनवाई चल रही है। चारधाम यात्रा श्रद्धालुओं के लिए खोलने को लेकर राज्य सरकार 16 जून के बाद इस पर विचार करेगी। सूत्रों की मानें तो कोरोना के खतरे को लेकर सरकार ने यह निर्णय वापिस लिया है। पिछली रिपोर्ट के अनुसार उत्तराखंड में कोरोना के एक्टिव केस साढे चार हजार है। ऐसे में सीएम कुंभ की तरह कोई और खतरा नहीं ले सकते है। मीडिया रिपोर्ट की मानें तो कोरोना के खतरे के कारण ही चारधाम यात्रा का आदेश स्थगित किया गया है। अब श्रद्धालुओं को अपने अराध्य के दर्शन के थोड़ा और इंतज़ार करना पड़ेगा।

 

also read: chardham yatra starts : उत्तराखंड में कोरोना कर्फ्यु के साथ शुरु हुई चारधाम यात्रा, जानें क्या रहेगी पाबंदियां

इन लोगों के लिए खोली गई थी यात्रा

बता दें कि कल सीएम रावत ने आदेश दिया था कि उत्तराखंड के कुछ जिलों के लोगों के लिए चारधाम यात्रा खोली गई थी। जिला स्तर पर चारधाम यात्रा को मंजूरी मिली थी। बद्रीनाथ धाम के दर्शन चमोली जिले के, केदारनाथ धाम के दर्शन रुद्रप्रयाग जिले के, गंगोत्री और  यमुनोत्री धाम उत्तरकाशी जिले में स्थित है इस कारण गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के दर्शनों के लिए उत्तरकाशी के लोग ही कर सकेंगे। लेकिन अब ऐसा नहीं है। इस आदेश को सरकार ने रद्द कर दिया है। जैसा पहले चल रहा था वैसा ही चलेगा। चारोंधाम के कपाट खुले है और पुजारियों द्वारा पुजा-अर्चना की जा रही है किसी भी श्रद्धालु को मंदिर में जाने में जाने की अनुमति नहीं है। सीएम के अगले आदेश तक चारधाम यात्रा को स्थगित कर दिया गया है। चारोंधाम में पुजारी पुजा-अर्चना के अलावा अन्य कोई गतिविधि नहीं कर सकते है।

also read: केदारनाथ मंदिर के बाहर बैठकर क्यों आंदोलन कर रहे है पुरोहित, क्या मांगे है उनकी सीएम रावत से..

एक हफ्ते के लिए बढ़ाया गया कर्फ्यु

कोरोना संक्रमण के मामलों में कमी देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने 15 से 22 जून तक कुछ छूट के साथ कोरोना कर्फ्यू को बढ़ाने का ऐलान किया है। सरकार द्वारा दी गई छूट के तहत राजस्व कोर्ट में 20 केस तक की सुनवाई हो सकेगी। इसके अलावा, शादी और अंत्येष्टि में 50 लोगों की संख्या को अनुमति दी गई है। इससे पहले 20 लोगों की अनुमति थी। विक्रम ऑटो को चलाने की अनुमति दी गई है। 16, 18 और 21 जून को परचून, जनरल मर्चेंट की दुकानों के साथ ही शराब समेत अन्य व्यापारिक प्रतिष्ठान भी खोले जाएंगे। इन दुकानों को खोलने का समय सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक रखा गया है। इसके अलावा, फल, सब्जी डेयरी और मिठाई की दुकानें रोज खुल सकेंगी। इन दुकानों की टाइमिंग भी सुबह आठ बजे से लेकर शाम पांच बजे तक होगी। इसके अतिरिक्त 16 और 21 जून को स्टेशनरी और किताबों की दुकानें भी खुली रहेंगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *