nayaindia कोविड प्रतिबंधों के बीच केरल में क्रिसमस का जश्न - Naya India
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

कोविड प्रतिबंधों के बीच केरल में क्रिसमस का जश्न

तिरुवनंतपुरम। कोविड-19 महामारी के बीच, केरल में काफी सावधानी के साथ क्रिसमस मनाया जा रहा है। ईसाई समुदाय के लोगों ने कई कार्यक्रमों में भाग लिया और राज्य भर के चचरें में मध्यरात्रि प्रार्थना सभाओं का आयोजन किया गया। कोच्चि में मध्यरात्रि ‘होली मास’ का नेतृत्व आर्कबिशप ऑफ साइरो मालाबार चर्च कार्डिनल जॉर्ज एलनचेरी ने किया।

कार्डिनल जॉर्ज एलनचेरी ने अपने संबोधन में लोगों से एक दूसरे से प्यार करने और यीशु मसीह के संदेश को फैलाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि प्रेम सार्वभौमिक भाषा है और कोविड की मुश्किल घड़ी में, मानव पीढ़ी केवल मनुष्यों के प्रति दिखाए गए प्रेम और करुणा के कारण बच गई।

राज्य की राजधानी में सेंट थॉमस मलंकरा सीरियन कैथोलिक कैथ्रेडल में मध्यरात्रि ‘होली मास’ का नेतृत्व मेजर आर्कबिशप, कार्डिनल बेसेलियोस मार क्लेमिस ने किया। उन्होंने लोगों को कठिन मार्ग में जीने और दूसरों के प्रति प्रेम जगाने का आह्वान किया। उन्होंने लोगों को एक-दूसरे की मदद करने के लिए कहा और बताया कि कैसे कोविड महामारी के बीच सहयोग की वजह से लोगों को मदद मिली।

कोझिकोड के सेवानिवृत्त भौतिकी के प्रोफेसर जॉर्ज चेरियन ने कहा, क्रिसमस ट्री और अंकल सांता और चमकते सितारों के साथ, लोगों के पास कुछ ऐसा है, जिससे वह महामारी के कठिन समय में आनन्दित हो सकते हैं। हालांकि, हम चर्च नहीं जा पा रहे हैं और होली मास में शामिल नहीं हो पा रहे हैं, लेकिन हमने लाइव स्ट्रीम में भाग लिया और प्रार्थना की।

Leave a comment

Your email address will not be published.

16 − eight =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
ये नजरिया महिला विरोधी
ये नजरिया महिला विरोधी