nayaindia Conducted classes on boats : शिक्षकों ने नावों पर कक्षाएं संचालित की
kishori-yojna
ताजा पोस्ट | देश | बिहार| नया इंडिया| Conducted classes on boats : शिक्षकों ने नावों पर कक्षाएं संचालित की

‘नाव की पाठशाला’: बाढ़ के पानी में डूबे बिहार के स्कूल के शिक्षकों ने नावों पर कक्षाएं संचालित की

बिहार के कुछ हिस्सों में लगातार मॉनसून की बारिश के कारण बाढ़ के पानी के साथ स्कूल भवन भी जलप्रलय के चंगुल से नहीं बच पाए हैं। ऐसी कई इमारतें पानी में आधी डूब गई हैं जिससे शिक्षकों और छात्रों के पास अस्थायी रूप से बचने के अलावा कोई विकल्प नहीं है। एक तो पहले से ही कोरोना महामारी के कारण स्कूल बंद है और कक्षाएं नियमित रूप से नहीं हो रही है। ऐसे में अब एक और समस्या बारिश भी शामिल हो गई है। ( Conducted classes on boats) ऐसे में बिहार में कटिहार जिले के मनिहारी क्षेत्र में स्कूल बंद होने के कारण कुछ गोडसेंड शिक्षकों ने एक साथ आकर नावों पर कक्षाएं लगानी शुरू कर दी हैं। कोरोना काल में ऑनलाइन क्लास हुई तो जरूर थी लेकिन अधिकांश बच्चों के पास मोबाइल ना होने के कारण पढ़ाई में बाधा आई है।

also read: लंच में कोहली की बुमराह से हुई थी ये बात, फिर पलट गया मैच

इस कदम से छात्रों को मिली राहत

एक शिक्षक पंकज कुमार ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात की। जैसा कि आप देख सकते हैं पूरा इलाका जलमग्न है। हमने कक्षाएं लेने की पहल शुरू कर दी क्योंकि हमारे पास कोई दूसरा विकल्प नहीं है। छह माह से बाढ़ का पानी है। हम कक्षाओं को छोड़ नहीं सकते। जब तक पानी नहीं रहेगा हम नावों पर क्लास लेते रहेंगे। सभी छात्र इस पहल के लिए बहुत आभारी हैं। एक छात्र अमीर लाल कुमार ने कथित तौर पर एजेंसी को बताया कि कैसे शिक्षकों ने उनकी कक्षा 10 की परीक्षा के लिए अध्ययन करने में मदद की है क्योंकि महामारी ने उनकी पढ़ाई पहले ही रोक दी थी। शिक्षकों ने हमारा मार्गदर्शन किया है। इसलिए हम नाव पर अध्ययन कर रहे हैं क्योंकि बाढ़ आ गई है। हम बाढ़ के पानी से नहीं डरते। पढ़ाई पूरी करने के बाद मैं भारतीय सेना में शामिल होना चाहता हूं।

शिक्षक दे रहे बच्चों को मुफ्त शिक्षा ( Conducted classes on boats )

मौसम सूत्रों के अनुसार गंगा नदी के किनारे स्थित मनिहारी में हर मानसून में भारी बाढ़ आती है। यह सुनिश्चित करने के लिए कि छात्र पढ़ाई से न चूकें पंकज कुमार अपने दो और समकक्षों पंकज कुमार साह और कुंदन कुमार साह के साथ मनिहारी के सिंघला टोला के बाढ़ प्रभावित क्षेत्र में ऐसे बच्चों को पढ़ाने के लिए पहुंचे जहां कक्षा 1 से 10 तक के छात्रों को  मुफ्त शिक्षा दे रहे है। हाल ही में उत्तर प्रदेश की एक 15 वर्षीय लड़की की तस्वीरें वायरल हुईं जिसमें वह स्कूल जाने के लिए नाव चलाती हुई दिखाई दे रही है। गोरखपुर के बहरामपुर इलाके की 11वीं कक्षा की छात्रा संध्या साहनी नाव को उस स्थान तक ले जाती है जहां से वह मिनीवैन में अपने स्कूल पहुंचती है। ( Conducted classes on boats )

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen + seventeen =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सपा प्रवक्ता अब्बास हैदर पर टुटा दुखों का पहाड़
सपा प्रवक्ता अब्बास हैदर पर टुटा दुखों का पहाड़