इंसानों के बाद जानवरों में हुई डेल्टा वैरिएंट की पुष्टि, तमिलनाडु के चार शेर कोविड-19 पॉजिटिव - Naya India
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

इंसानों के बाद जानवरों में हुई डेल्टा वैरिएंट की पुष्टि, तमिलनाडु के चार शेर कोविड-19 पॉजिटिव

covid positive lion

तमिलनाडु |  कोरोना ने इंसानों में तो जबरदस्त तांडव किया है। कोरोना ने लाखों लोगों की जान ली है। और अब जैसे-जैसे कोरोना के मामलों में गिरावट हो रही है। जानवरों में भी कोरोना के मामले बढ़ने लगे है। हाल ही में तमिलनाडु के चिड़ियाघर  में चार शेर कोरोना के डेल्टा वैरिएंट पाया गया है। तमिलनाडु के वंडालूर में स्थित अरिगनर अन्ना जैविक उद्यान में कोविड-19 से चार शेर  संक्रमित पाये गए है। शेरों के नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग से पता चला है कि वे वायरस के पैंगोलिन लिनियेज बी.1.617.2 प्रकार से संक्रमित थे। बी.1.617.2 को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने ‘डेल्टा’ नाम दिया है। यह जानकारी चिड़ियाघर से शुक्रवार शाम को दी गई। जैविक उद्यान के उप निदेशक ने बताया कि इस साल 11 मई को डब्ल्यूएचओ ने वायरस के बी.1.617.2 प्रकार को चिंताजनक बताया था और कहा था कि यह ज्यादा संक्रामक है।

lions

also read: #Milkha Singh के निधन पर ये क्या कह दिया Rahul Gandhi ने मच गया बवाल, जानें पूरा मामला

9 शेरों कीजांच में संक्रमण पाया गया

जैविक उद्यान ने कोरोना वायरस की जांच के लिए 24 मई को चार और 29 मई को सात शेरों के नमूने भोपाल स्थित आईसीएआर- राष्ट्रीय उच्च सुरक्षा पशुरोग संस्थान भेजे थे। संस्थान ने तीन जून को बताया कि नौ शेरों की जांच में संक्रमण पाया गया है। इसके बाद से सिंहों का उपचार किया जा रहा है। बाकी सभी जानवरों का भाी पूरा ध्यान रखा जा रहा है। उप निदेशक ने एक बयान में कहा कि जैविक उद्यान के अनुरोध पर संस्थान ने उस वायरस की ‘जीनोम सीक्वेंसिंग के नतीजे साझा किये थे जिनसे शेर संक्रमित हुए थे।

lion

कोरोना ने ली दो शेरनियों की जान

बयान में कहा गया कि आईसीएआर-एनआईएचएसएडी के निदेशक ने बताया कि संस्थान में चारों नमूनों की जीनोम सीक्वेंसिंग की गई। सीक्वेंस के विश्लेषण से पता चलता है कि चारों सीक्वेंस पैंगोलिन लिनिएज बी.1.617.2 प्रकार के हैं जो विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार डेल्टा प्रकार है।बता दें इस महीने नौ साल की शेरनी नीला और पद्मनाथन नामक 12 साल के एक शेर की कोविड-19 से मौत हो गई थी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *