Parliament session winter session कांग्रेस ने बनाई संसद सत्र की रणनीति
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Parliament session winter session कांग्रेस ने बनाई संसद सत्र की रणनीति

कांग्रेस ने बनाई संसद सत्र की रणनीति

Parliament winter session LokSabha

नई दिल्ली। संसद का शीतकालीन सत्र शुरू होने से पहले कांग्रेस पार्टी ने गुरुवार को अपनी संसदीय रणनीति तय की। मेघालय में पार्टी टूटने की घटना के एक दिन बाद हुई इस बैठक में पार्टी के सारे वरिष्ठ नेता शामिल हुए। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास पर हुई संसदीय रणनीति समूह की बैठक में सरकार को घेरने वाले मुद्दों पर विपक्षी पार्टियों से साझीदारी बनाने के मसले पर भी बातचीत हुई। बैठक के बाद मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि संसद में बहुत सारे मुद्दे उठाने हैं। उन्होंने कहा कि पहले दिन यानी 29 नवंबर को एमएसपी और किसानों का मुद्दा उठाएंगे। पार्टी टूटने के मामले को ज्यादा तवज्जो नहीं देते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस संसद में तृणमूल सहित सभी विपक्षी पार्टियों के साथ तालमेल बनाएगी।

Read also खुर्शीद की किताब पर पाबंदी से इनकार

सोनिया गांधी के आवास 10, जनपथ में हुई बैठक में दोनों सदनों में कांग्रेस के नेताओं के साथ साथ अन्य वरिष्ठ नेता शामिल हुए। लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी और राज्यसभा में पार्टी के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने बैठक में हिस्सा लिया। इनके अलावा वरिष्ठ नेता एके एंटनी, संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल, राज्यसभा में उप नेता आनंद शर्मा, के सुरेश, रवनीत बिट्टू, और जयराम रमेश सहित कई अन्य नेता इस बैठक में शामिल हुए।

inflation and corona compensation

बैठक में 29 नवंबर से शुरू हो रहे संसद के शीतकालीन सत्र में उठाए जाने वाले मुद्दों पर चर्चा हुई। सरकार इस सत्र में कई अहम बिल पेश करने वाली है, जिसमें कृषि कानूनों को वापस लेने का बिल भी शामिल है। बैठक से पहले कांग्रेस महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा था कि पार्टी संसद के आगामी सत्र में महंगाई का मुद्दा उठाएगी। इसके अलावा पार्टी कोरोना के कुप्रबंधन और मुआवजे का मुद्दा भी उठाएगी।

Read also जनसंख्या दर में बड़ी गिरावट

कांग्रेस के जानकार सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्री केंद्र को पत्र लिखकर कोरोना पीड़ितों के परिजनों को मुआवजा देने की मांग करेंगे। इसके अलावा जिन राज्यों में कांग्रेस सत्ता में नहीं है वहां के कांग्रेस विधायक दल के नेता अपने राज्य के मुख्यमंत्री को पत्र लिखेंगे। असल में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोविड न्याय अभियान शुरू किया है, जिसके तहत कांग्रेस पार्टी सरकार से मांग कर रही है कि कोरोना से जान गंवाने वालों की असली संख्या बताई जाए और मरने वालों के परिजनों को चार लाख रुपए का मुआवजा दिया जाए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
IPL 2022: केएल राहुल और राशिद खान पर रिटेंशन के बीच हो सकता है एक साल का बैन , जानिए क्यों
IPL 2022: केएल राहुल और राशिद खान पर रिटेंशन के बीच हो सकता है एक साल का बैन , जानिए क्यों