आरक्षण के लिए कांग्रेस का धरना प्रदर्शन

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में आज कांग्रेस ने केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़े वर्ग को दिये गये आरक्षण को समाप्त करने के षड्यंत्र के विरोध में धरना प्रदर्शन किया।

कांग्रेस की यह प्रदेशव्यापी धरना-प्रदर्शन बोर्ड आफिस चौराहे पर आयोजित किया गया। धरना प्रदर्शन में कांग्रेस के पदाधिकारियों, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़े वर्ग के पदाधिकारियों ने केंद्र की भाजपा सरकार को जमकर कोसा।

धरना-प्रदर्शन के दौरान कांग्रेसजनों ने आरक्षण के प्रावधानों को यथावत रखे जाने की मांग करते हुए राष्ट्रपति के नाम संबोधित ज्ञापन भी जिला प्रशासन को सौंपा। प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष सुरेन्द्र चौधरी ने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार डाॅ. भीमराव अम्बेडकर द्वारा निर्मित संविधान के साथ खिलवाड़ कर उसे तहस-नहस करने पर उतारू हैं।

इसे भी पढ़ें :- केजरीवाल ने कैबिनेट के साथियों को रात्रिभोज पर आमंत्रित किया

भाजपा-संघ अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़े वर्ग के आरक्षण को समाप्त करने का षड्यंत्र कर रही है, उनके इस षड्यंत्र को हमें कामयाब नहीं होने देना हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा झूठ बोलकर प्रदेश की जनता और खासकर दलितों, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति तथा अन्य पिछड़े वर्ग लोगों को भ्रमित कर रही है, उनकी भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रही है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश की कमलनाथ सरकार ने केंद्र के इशारे पर सुप्रीम कोर्ट के आरक्षण विरोधी फैसले को नकार दिया है। प्रदेश कांग्रेस पिछड़ा वर्ग विभाग के अध्यक्ष एवं राज्यसभा सांसद राजमणि पटेल ने कहा कि केंद्र सरकार आरक्षण को लेकर दोहरी नीति अपना रही है। जहां दलितों, पिछड़ा वर्ग के लोगों पर कुठाराघात कर रही है, वहीं देश के संविधान को तार-तार कर डाॅ. भीमराव अंबेडकर को भी अपमानित कर रही है।

इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, अनुसूचित जाति और जनजाति के अध्यक्ष महेन्द्र बौद्ध एवं अजय शाह, उपाध्यक्ष प्रकाश जैन, पूर्व सांसद सत्यनारायण पंवार, विधायक कुणाल चौधरी, मनोहर बैरागी, प्रवक्ता भूपेन्द्र गुप्ता, पवन पटेल सहित बड़ी संख्या में कांग्रेजजन उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares