मप्र में कांग्रेस का ‘शुद्धिकरण’ अभियान शुरू

भोपाल। मध्यप्रदेश में कुछ समय बाद होने वाले विधानसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस ने शुद्धिकरण अभियान शुरू किया है। इस अभियान में जिन क्षेत्रों में उपचुनाव है, वहां घर-घर गंगाजल बांटा जाएगा। भाजपा ने इस अभियान पर तंज कसते हुए कांग्रेस को पहले अंत:करण के शुद्धिकरण की सलाह दी है।

राज्य में 27 विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव होने हैं। इनमें से 25 वे क्षेत्र हैं, जहां से वर्ष 2018 के विधानसभा चुनाव में कांग्रेस विधायक निर्वाचित हुए थे, मगर उन्होंने दल बदलकर भाजपा का दामन थाम लिया है। कांग्रेस ने इन क्षेत्रों में शुद्धिकरण अभियान गुरुवार को भोपाल से शुरू किया। अभियान की शुरुआत प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमल नाथ ने की।

इस अभियान का नेतृत्व प्रदेश कांग्रेस महिला मोर्चा प्रकोष्ठ की समन्वयक अर्चना जायसवाल कर रही हैं। उन्होंने कहा कि उपचुनाव वाले सभी 27 विधानसभा क्षेत्रों में शुद्धिकरण के लिए लोगों को आधा लीटर गंगाजल की बोतल सौंपी जाएगी। गंगाजल वितरण अभियान का संयोजक हिमांशु यादव को बनाया गया है। इसके साथ ही कांग्रेस वार्ड समग्र सेवा अभियान भी चलाएगी।

पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष (संगठन) चंद्र प्रभाष शेखर का कहना है कि दल बदलने वाले विधायकों ने जनता के साथ धोखा किया है, इसलिए शुद्धिकरण अभियान चलाया जा रहा है।

कांग्रेस के इस अभियान पर गृहमत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने तंज कसते हुए कहा कि उपचुनाव के लिए विधानसभा क्षेत्रों में गंगाजल से शुद्धिकरण करने वाली कांग्रेस पहले अपने अंत:करण का शुद्धिकरण कर ले। कभी श्रीराम के अस्तित्व पर सवाल, कभी सेना पर और कभी चुनाव आयोग पर सवाल, जनता से झूठ बोलकर सत्ता में आने और फिर सारे वादे भूल जाने के पाप का शुद्धिकरण भी तो जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares