Baba Ka Dhaba : बाबा का ढाबा संचालक कांता प्रसाद ने किया आत्महत्या का प्रयास, अस्पताल में भर्ती - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | दिल्ली| नया इंडिया|

Baba Ka Dhaba : बाबा का ढाबा संचालक कांता प्रसाद ने किया आत्महत्या का प्रयास, अस्पताल में भर्ती

baba ka dhaba kanta prasad suicide attempt

नई दिल्ली | कोरोना की की दूसरी लहर में एक बार फिर से सुर्खियों में आए बाबा का ढाबा के मालिक कांता प्रसाद ने आत्महत्या करने की कोशिश की है. इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार कांता प्रसाद ने पहले तो शराब पी और उसके बाद ढेर सारी नींद की गोलियां खा ली. आत्महत्या के प्रयास किया मामला गुरुवार की रात करीब 10:00 बजे का बताया जा रहा है. परिवार वालों ने अफरा-तफरी में कांता प्रसाद को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में एडमिट किया है. हालांकि राहत की बात यह है कि परिवार वालों ने समय रहते कांता प्रसाद को अस्पताल पहुंचा दिया था, इसलिए डॉक्टर उनकी जान बचा पाए. डॉक्टरों का कहना है कि अब कांता प्रसाद खतरे से बाहर हैं.

baba ka dhaba kanta prasad

दूसरे लहर में फिर से सुर्खियों में आए थे कांता प्रसाद

बता दें कि कुछ दिनों पहले कांता प्रसाद एक बार फिर से सुर्खियों में आ गए थे. पहले तो पता चला कि उनका रेस्टोरेंट बंद हो गया जिसके बाद वे अपनी पुरानी जिंदगी में वापस लौट आए. पुरानी जिंदगी में लौटने के बाद कांता प्रसाद में कहा था कि लगातार चल रहे लॉकडाउन के कारण उन्हें रेस्टोरेंट में नुकसान होने लगा था इसी कारण रेस्टोरेंट को बंद करना पड़ गया था. इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि अब धीरे-धीरे मेरे पैसे खत्म हो रहे हैं. हालांकि उस दौरान उन्होंने यूट्यूबर गौरव वासन से माफी भी मांगी थी और कहा था कि मैंने अपने मुंह से कभी भी उसे धोखेबाज नहीं कहा.

इसे भी पढ़ें- Bengal Politics : आज नहीं लौटेंगे पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, एक बार फिर कर सकते हैं अमित शाह से मुलाकात

kanta prasad baba ka dhaba with wife

हाल में दोनों के बीच हो गया था समझौता

अभी कुछ दिनों पहले ही बाबा का ढाबा चलाने वाले कांता प्रसाद और दान में आए पैसों को लेकर विवाद में रहे गौरव वासन के बीच समझौता हो गया था. गौरव ने अपने सोशल साइट्स में कामता प्रसाद के साथ खींची गई तस्वीर भी डाली थी. इस तस्वीर में कांता प्रसाद की पत्नी कांता प्रसाद और गौरव काफी खुश नजर आ रहे थे. आत्महत्या के प्रयास के बाद अब तक गौरव या फिर कांता प्रसाद की परिवार की ओर से कोई बयान नहीं दिया गया. परिवार वालों का कहना है कि उन्हें खुद नहीं पता कि कांता प्रसाद ने यह कदम क्यों उठाया.

इसे भी पढ़ें- black fungus : माया नगरी में ब्लैक फंगस ने मचाया आतंक, तीन मासूमों की निकाली आंखें

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *