nayaindia आजम पर फर्जी मुकदमे के मुद्दे पर हंगामे से परिषद स्थगित - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

आजम पर फर्जी मुकदमे के मुद्दे पर हंगामे से परिषद स्थगित

लखनऊ। मुख्य विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) के सदस्य रामपुर के सांसद मोहम्मद आजम खां के खिलाफ जिला प्रशासन द्वारा फर्जी मुकदमें लगाने का मुद्दा उठाते हुए

सदन के बीचो-बीच आकर नारे लगाने लगे,इस पर सभापति रमेश यादव ने सदन की कार्यवाही आधे घंटे के लिए स्थगित कर दी और बाद में स्थगन का समय बढ़ा कर 12 बजे तक कर दिया ।

बजट सत्र के दूसरे दिन शुक्रवार को सदन की कार्यवाही जैसे ही पूर्वाह्न 11 बजे शुरु हुई तभी नेता विरोधी दल अहमद हसन ने पार्टी के सांसद मोहम्मद आजम खां पर जिला प्रशासन द्वारा फर्जी मुकदमे दर्ज करने तथा उनके परिवार के सदस्यों एवं जनप्रतिनिधियों पर हो रहे अत्याचार का मामला सदन में उठाया।

इसे भी पढ़ें :- दिल्ली एनसीआर में निर्माण कार्य पर प्रतिबंध हटा

जिस पर नेता सदन दिनेश शर्मा ने इस प्रकार की सूचना प्राप्त न/न होने की बात कही। जिससे सपा के सभी सदस्य उत्तेजित हो गये तथा नारेबाजी करते हुये वेल में आ गये। भारी-शोर-के कारण सभापति यादव ने 11ः07 बजे सदन को आधे घण्टे के लिये स्थगित कर दिया पुनः स्थगन का आदेश 12ः00 बजे तक के लिये बढ़ा दिया। शून्य काल में सपा के अहमद हसन, बलराम यादव, राम सुन्दर दास निषाद ,शशांक

यादव एवं अन्य सदस्यों ने राज्य में 19 दिसम्बर से शांति पूर्वक तरीके से धरना व प्रदर्शन कर रही महिलाओं, बुजुर्गों और बच्चों पर सरकार द्वारा उत्पीड़न किये जाने के संबंध में सूचना दी। इसी विषय से संबन्धित बसपा के दिनेष चंद्रा, सुरेश कुमार कश्यप एवं अन्य सदस्यों की   कार्यस्थगन नियम-105 की सूचना को उक्त सूचना के साथ सम्बद्ध किया गया एवं इसी विषय से संबन्धित कांग्रेस के दीपक सिंह की सूचना

को उक्त सूचना के साथ सम्बद्ध किया गया। सूचना की ग्राहय्ता पर सपा के नरेश उत्तम, बसपा के दिनेश चन्द्रा एवं कांग्रेस के दीपक सिंह ने विचार व्यक्त किये। नेता सदन ने सदन दिनेश शर्मा ने सदन को तथ्यों से अवगत कराया। नेता सदन के उत्तर से संतुष्ट न/न होने पर सपा के सभी सदस्य वेल में आकर नारेबाजी करने लगे। उसके बाद अधिष्ठाता सुरेश कुमार कश्यप ने 1़ 20 बजे से 15 मिनट के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी।

पुनः सदन की कार्यवाही 1़ 35 बजे प्रारम्भ होने पर सपा के शशंक यादव, बसपा के भीमराव अम्बेडकर,राजपाल कश्यप ने अपने विचार व्यक्त किये। नेता सदन दिनेश शर्मा, नेता विरोधी दल अहमद हसन और मंत्री मोहसिन रजा ने सदन को तथ्यों से अवगत कराया। अधिध्ठाता सुरेश कुमार कश्यप ने सूचना पर कार्यस्थगन अस्वीकार कर उसे सरकार को आवश्यक कार्यवाही के लिए संदर्भित किये जाने के निर्देश दिये।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × three =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
ये न ‘लव’ है और न ही ‘जिहाद’
ये न ‘लव’ है और न ही ‘जिहाद’