nayaindia देश को सीएए, एनआरसी और एनपीआर की जरूरत नहीं : ज्यां द्रेज - Naya India
बूढ़ा पहाड़
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

देश को सीएए, एनआरसी और एनपीआर की जरूरत नहीं : ज्यां द्रेज

डालटनगंज। प्रख्यात अर्थशास्त्री ज्यां द्रेज ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए), राष्ट्रीय नागरिकता पंजी (एनआरसी) और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) पर झारखंड की हेमंत सरकार से उनका रुख स्पष्ट करने की अपील करते हुए आज कहा कि देश को ऐसे कानून की कोई जरूरत नहीं है।

सीएए, एनआरसी और एनपीआर के विरोध में पलामू में निकाले गए जूलूस का नेतृत्व कर रहे ज्यां द्रेज ने कहा कि देश में सीएए, एनपीआर और एनआरसी की कोई जरूरत नहीं है।

उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, गृहमंत्री अमित शाह के साथ साथ झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सारेन बताएं कि वे इन कानूनों को लेकर इस राज्य में क्या करने वाले हैं। अर्थशास्त्री ने हेमंत सोरेन सरकार से मांग की है कि राज्य में एनआरसी, सीएए और एनपीआर लागू न होने दें और केरल की तरह यहां के विधानसभा से भी इस सिलसिले में प्रस्ताव पारित किया जाए।

उन्होंने रैली के दौरान ‘हिन्दु-मुस्लिम भाई-भाई सीएए, एनआरसी बाॅय-बाॅय’ के नारे भी लगाए। केंद्र सरकार की एनआरसी, सीएए और एनपीआर के खिलाफ आज पलामू में प्रदर्शन किया गया।   श्रमिक संगठनों के अलावा कांग्रेस, झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो), भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी-लेनिनवादी (भाकपा-माले) एवं भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के कई नेता एवं बड़ी संख्या में पार्टी कार्यकर्ता प्रदर्शन में शामिल हुए।  प्रदर्शनकारियों ने एनआरसी और सीएए कानून से आजादी, यह कानून वापस लो जैसे नारे भी लगाए।

प्रदर्शन में शामिल लोग हाथों में तिरंगा और कानून के खिलाफ लिखी तख्तियां थी। शिवाजी मैदान से निकाला गया जूलूस मेदिनीनगर शहर के प्रमुख मार्गों से होती हुई शिवाजी मैदान में आकर समाप्त हो गया। इस दौरान रोषपूर्ण प्रदर्शन करते हुए केन्द्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गयी। जूलूस में ‘मुल्क बचाने निकले हैं-आओ हमारे साथ, संविधान बचाने निकले हैं-आओ हमारे साथ, तहजीब बचाने निकले हैं-आओ हमारे साथ’ के नारे भी लगाए गए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 5 =

बूढ़ा पहाड़
बूढ़ा पहाड़
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
बिना अदानी पर बोले मोदी विपक्ष पर बरसे
बिना अदानी पर बोले मोदी विपक्ष पर बरसे