Rajasthan में 24 घंटे के दौरान सामने आए 942 नए मामले, अब Vaccine विवाद ने पकड़ा तूल - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | राजस्थान| नया इंडिया|

Rajasthan में 24 घंटे के दौरान सामने आए 942 नए मामले, अब Vaccine विवाद ने पकड़ा तूल

जयपुर । राजस्थान में कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर (COVID-19 Second Wave) अब पूरी तरह से कमजोर पड़ चुकी है। यहां नए मामलों में गिरावट के साथ ही कोरोना से होने वाली मौतों की संख्या भी घटी है। लेकिन राज्य के नेताओं में कोरोना संक्रमण और वैक्सीन (Corona Vaccine) को लेकर लगातार आरोप-प्रत्यारोप का सिलसिला जारी है। सत्ता पक्ष केन्द्र पर आरोप लगा रहा है तो विपक्ष राज्य सरकार को निषाना बना रहा है। अब तो वैक्सीन विवाद राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) तक पहुंच गया है। इन सब के बीच राजस्थान में शनिवार को 24 घंटे के दौरान 942 नए मामले सामने आए हैं। इसी दौरान राज्य में कोरोना से 32 लोगों की मौत दर्ज हुई है। बता दें कि राज्य में शुक्रवार को नए मामलों की संख्या 1006 थी।

ये भी पढ़ें:- Corona की दूसरी लहर के तांड़व में देश के 646 डॉक्टरों ने संक्रमण से गंवाई जान, इन राज्यों में हुई मौतें

राज्य में अब तक कुल संक्रमितों की संख्या 9,45,442 हो गई है, वहीं कुल मौतों की संख्या 8631 हो गई है। राज्य में अभी 21550 एक्टिव मामले है। राज्य में सर्वाधिक 170 नए मामले राजधानी जयपुर में मिले हैं, जबकि 24 घंटे में यहां 7 मौत भी दर्ज हुई है। राजधानी में अनलाॅक होने के बाद लोग सोषल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाते दिखाई दे रहे हैं, जो खतरे की घंटी है।

राजस्थान में जयपुर में 170 नए मरीजों के अलावा अलवर 133 मरीज मिले हैं। वहीं झुंझुनूं 70, जोधपुर 60, बीकानेर 57 नए पाॅजिटिव मिले। जबकि राज्य के 27 जिलों में 50 से कम नए संक्रमित सामने आए हैं।

ये भी पढ़ें:- Corona Update: एक्टिव केस 15 लाख से कम, सर्वाधिक संक्रमित राज्य महाराष्ट्र

वहीं राज्य में मौतों का आंकड़ा देखा जाए तो बीते 24 घंटे के दौरान जयपुर में 7, जोधपुर-चूरू में 3, अलवर-राजसमंद में 2-2, बीकानेर-भरतपुर-दौसा-श्रीगंगानगर-सीकर- सिरोही-हनुमानगढ़-झुंझुनूं-करौली-कोटा-प्रतापगढ़ में 1-1 मौत दर्ज हुई है।

जोशी ने कहा- केंद्र और गृह मंत्रालय के अधीन काम कर रहे राज्यपाल
राजस्थान में वैक्सीन को लेकर कांग्रेस और भाजपा के नेताओं में चल रहा विवाद अब राज्यपाल कलराज मिश्र (Kalraj Mishra) तक पहुंच गया है। राज्यपाल ने सीएम अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) को पत्र लिखकर वैक्सीन की बर्बादी की जांच के निर्देश दिए है, जिस पर कांग्रेस ने सवाल खड़े कर दिए है।

सरकारी मुख्य सचेतक महेश जोशी (Mahesh Joshi) ने कहा है कि राज्यपाल ने एक बार भी केन्द्र से निशुल्क वैक्सीनेशन की मांग नहीं की है। राज्यपाल केंद्र और गृह मंत्रालय के अधीन काम कर रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *