ताजा पोस्ट

कोरोना की चेन तोड़ने के लिए Himachal में 6 से 16 मई तक Curfew, सभी शिक्षण संस्थान भी रहेंगे बंद

शिमला | हिमाचल प्रदेश सरकार ने राज्य में कोरोना संक्रमण (Corona transition) के बढ़ते मामलों के मद्देनज़र छह मई मध्यरात्रि से दस दिन के लिये कर्फ्यू (Curfew)  लगाने की घोषणा की है। कर्फ्यू (Curfew)  16 मई मध्यरात्रि तक लागू रहेगा। यह फैसला मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) की अध्यक्षता में यहां हुई मंत्रिमंडल की बैठक (Cabinet meeting) में लिया गया।

कर्फ्यू (Curfew) के दौरान सभी सरकारी और प्राईवेट कार्यालय, गैर जरूरी दुकानें बंद रहेंगी। अलबत्ता कर्फ्यू के दौरान जरूरी वस्तुओं की दुकानें खुली रहेंगी लेकिन इनके खुलने और बंद होने का समय सरकार तय करेगी। सरकार ने सम्पूर्ण लॉकडाउन के बजाय काेरोना कर्फ्यू लगाया है। कर्फ्यू (Curfew) के दौरान राज्य में निषेधाज्ञा लागू रहेगी जिसके तहत एक स्थान पर पांच से ज्यादा लोग एकत्र नहीं हो सकेंगे।

इसे भी पढ़ें – Corona: बिहार में कोरोना जांच की रफ्तार पड़ी सुस्त, विपक्ष ने साधा निशाना

इससे पहले सरकार द्वारा गत रात्रि पीटरहॉफ में बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में कांग्रेस समेत विपक्ष ने कहा कि मानवता की रक्षा के लिए सरकार जो भी कदम उठाएगी वह उसका समर्थन करेगा। बैठक की अध्यक्षता मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur)  ने की। देर रात तक चली इस बैठक में कोविड संक्रमण की विपरीत परिस्थितियों से निपटने के लिए सरकार को विपक्षी की ओर से भी सुझाव दिए गये।

सर्वदलीय बैठक के बाद मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर (CM Jairam Thakur) ने कहा कि विस्तार से सार्थक चर्चा हुई। सबको इकठा होकर लोगों की जान बचाने के लिए काम करना चाहिए। जो भी कमियों को दूर करने के लिए प्रयास किया जाएगा। कोविड को रोकने के लिए और ज्यादा बंदिशों को लगाने और लॉकडाउन पर विचार किया जाएगा। ऑक्सीजन की कमी को लेकर उठ रहे सवालों पर मुख्यमंत्री ने कहा कि ऑक्सिजन की कमी के कारण किसी मरीज की मृत्यु नही हुई है।

वहीं विपक्ष के नेता मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश में 25 हजार कोरोना मरीज हैं और मृत्यु का आंकड़ा 1600 के पार हो गया है। सरकार स्थिति को नियंत्रण करने के लिए जो भी कदम उठाएगी विपक्ष उसमे सरकार के साथ है। अगर लॉक डाउन जैसी स्थिति बनती है तो सरकार को मध्यम वर्ग के लिए पैकेज का प्रावधान करना चाहिए। गरीब लोगों के खातों में पैसे आने चाहिए ताकि कोई भूख से न मरे। उन्होंने कहा कि ऑक्सीजन की कमी न हो ओर अतिरिक्त सिलेंडर का प्रावधान सरकार को करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें – Corona Update: अगर नहीं लगा लॉकडाउन तो कोरोना की तीसरी लहर के लिए तैयार रहें- एम्स निदेशक

मार्क्सवादी कम्यूनिस्ट पार्टी(माकपा) विधायक राकेश सिंघा ने कहा कि राज्य की जनता के मसलों को बैठक में रखा गया है। कोविड को हराने के जनता की भागीदारी होना आवश्यक है।

Latest News

SC on 12Th Board : SC ने 12वीं की परीक्षा के लिए अड़ी आंध्र प्रदेश की सराकर से कहा- यदि एक भी बच्चे को कुछ हुआ तो फिर…
नई दिल्ली | SC on 12Th Board:  देश के ज्यादातर राज्यों में 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं स्थगित की जा चुकी इस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

कोविड-19 अपडेटस | विदेश

जो भी नागरिक वैक्सीन नहीं लगवाएगा वह भारत जा सकता है- फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते की धमकी

philipines

इन दिनों फिलीपिंस के राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ( philipines president about corona vaccine )आए दिन चर्चा में बने रहते है। कुछ दिन पहले राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने कहा था कि यदि कोई कोरोना वैक्सीन नहीं लगवाएगा तो उसे जेल में डाल दिया जाएगा। एक बार फिर राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते मे कोरोना वैक्सीन को लेकर अजीब वयान दे डाला है। फिलीपींस के राष्‍ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि इस समय देश एक बड़े संकट का सामना कर रहा है। अगर आपमें से कोई वैक्‍सीन नहीं लगवाएगा तो मैं आपको गिरफ्तार करवा दूंगा। इस बार राष्ट्रपति ने बारत को लेकर बड़ा बयान दिया है। खबर पढ़कर ऐसा लग रहा है कि वे भारत को लेकर अपने देश के नागरियों को धमकी दे रहे है।

President Rodrigo Duterte

also read: अब एशिया के दो सबसे अमीर लोगों में शामिल हुए अडानी , मुकेश अंबानी की बादशाहत को भी खतरा

क्या कहा राष्ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने ( philipines president about corona vaccine )

राष्‍ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते ने पहले से रिकॉर्ड किए गए उनके सार्वजनिक भाषण में कहा कि जो लोग वैक्सीनेशन के इच्छुक नहीं हैं। उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा। इसके बावजूद अगर कोई वैक्‍सीन नहीं लगवाना चाहता तो वह भारत या अमेरिका जा सकता है। कोरोना वैक्सीन लगवाने से हम कोरोना को हरा सकते है। वैक्सीन लगवाने में कोई खतरा नहीं है। इसलिए आप सभी निडर होकर वैक्सीन लगवाएं। रोड्रिगो दुतेर्ते ने राष्ट्र को संबोधित कर रहे थे और उन्होनें कहा कि इस समय देश कोरोना महामारी जैसे बड़े संकट का सामना कर रहा है। देश में राष्‍ट्रीय आपातकाल की हालत बनी हुई है। आप लोग मुझे गलत मत समझिएगा लेकिन अगर आपमें से कोई वैक्‍सीन नहीं लगवाएगा तो मैं आपको गिरफ्तार करवा दूंगा। उन्‍होंने कहा कि हम पहले से ही कोरोना महामारी से जूझ रहे हैं और आप हमारे बोझ को और बढ़ा रहे हैं। तो आप सभी फिलिपिनो सुन रहे हैं। सावधान रहें, सतर्क रहें। और बड़ी संख्या में सभी लोग कोरोना वैक्सीन लगवाएं। दुतर्ते ने अपने यहां के नागरिकों को धमकी देते हुए कहा कि उन्‍हें जबरदस्‍ती ताकत का इस्‍तेमाल करने के लिए मजबूर न करें। उन्‍होंने साफ तौर पर कहा कि जो लोग वैक्‍सीन नहीं लेना चाहते वह फिलीपींस छोड़ सकते हैं।

corona

फिलीपिंस में कोरोना के मामले

राष्ट्रपति ने कहा है कि कहा कि जो लोग मेरी धमकियों के बाद भी वैक्‍सीन नहीं लगवाना चाहते वह भारत या अमेरिका जा सकते हैं। जब तक आप यहां हैं तब तक एक ऐसे इंसान की तरह हैं जो वायरस फैला सकता है। समझदारी इसी में है कि स्वंय ही टीका लगवा लें। इससे पहले दुतर्ते ने कहा था कि, वह उन मूर्खों के कारण गुस्‍से में आ रहे है जो कोरोना वैक्‍सीन ( philipines president about corona vaccine ) नहीं लगवा रहे हैं। फिलीपींस के स्वास्थ्य विभाग ने बताया कि देश ने बुधवार को 4,353 नए कोरोना केस दर्ज किए हैं। वहीं फिलीपींस में कुल मामलों की संख्या 1,372,232 है जबकि अब तक 23 हजार लोगों की मौत कोरोना वायरस के कारण हुई है। बता दें कि दक्षिण पूर्व एशियाई देश की आबादी लगभग 11 करोड़ है।

covid

राष्ट्रपति के विवादित बयान

इससे पहले भी फिलीपिंस के राष्‍ट्रपति ने कोरोना वायरस के दौरान लगाए गए लॉकडाउन को लेकर विवादित बयान दिया था। राष्‍ट्रपति रोड्रिगो दुतेर्ते (philipines president about corona vaccine ) को ऐसे बयान देते हुए देखा जा चुका है। राष्ट्रपति ने कहा था कि जो भी नागरिक लॉकडाउन का उल्लंघन करेगा उसे गोली मार दी जाएगी। इसके बाद देश में लॉकडाउन का उल्‍लंघन करने वाले कई लोगों को गोली मार देने की कथित घटना सामने आई थी। इसके बाद राष्ट्रपति ने वैक्सीन ना लगवाने वालों को जेल भेजने का आदेश दिया था। आए दिन राष्ट्रपति ऐसे बयान देते हुए नज़र आते है।

Latest News

aaSC on 12Th Board : SC ने 12वीं की परीक्षा के लिए अड़ी आंध्र प्रदेश की सराकर से कहा- यदि एक भी बच्चे को कुछ हुआ तो फिर…
नई दिल्ली | SC on 12Th Board:  देश के ज्यादातर राज्यों में 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं स्थगित की जा चुकी इस…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *