Cyclone 'Yaas'  ने बरपाया कहर! भारी बारिश से यहां 80 घरों को नुकसान, दो की मौत, NDRF की टीमें पूरी तरह से अलर्ट - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | पश्चिम बंगाल| नया इंडिया|

Cyclone ‘Yaas’  ने बरपाया कहर! भारी बारिश से यहां 80 घरों को नुकसान, दो की मौत, NDRF की टीमें पूरी तरह से अलर्ट

नई दिल्ली। Cyclone Yaas Update: भीषण चक्रवाती तूफान ‘यास’ (Cyclone Yaas) तेजी से आगे बढ़ रहा है. आज कुछ ही घंटों में ये तूफान ओडिशा और पश्चिम बंगाल तट से टकराने वाला है. तूफान के मद्देनजर कई राज्यों में अलर्ट जारी कर दिया गया है. मौसम विभाग (IMD) के अनुसार गंभीर चक्रवाती यास तूफान जब तट से टकराएगा तो उस दौरान 130-140 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. लेकिन तूफान ने अभी से अपना भयानक रूप दिखाना शुरू कर दिया है. दोनों ही राज्यों के लिए ‘रेड जारी किया हुआ है. तूफान के असर से यहां भारी बारिश का दौर जारी है. जिससे पश्चिम बंगाल में हुगली और नॉर्थ 24 परगना जिलों के 80 घरों को नुकसान पहुंचा है. जबकि 2 लोगों की करंट से मौत की खबर है. पश्चिम बंगाल में तूफान यास की भयावहता को देखते हुए साढे ग्यारह लाख लोगों को पहले ही सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है.

ये भी पढ़ें:- Cyclone Yaas Latest Update: आगे बढ़ा तूफान ‘यास’, दिखने लगा असर, कई जगहों पर पलटा मौसम, तेज हवाओं के साथ बारिश जारी, कई ट्रेनें रद्द

वहीं चक्रवाती तूफान यास से ओडिशा के भद्रक और बालासोर में सबसे ज्यादा तबाही की आशंका है. मौसम विभाग के अनुसार, तूफान ओडिशा एवं पश्चिम बंगाल में पारादीप और सागर द्वीप के तटों के बीच धामरा होकर से गुजरेगा. 25 मई को यह तूफान भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है.

ये भी पढ़ें:- Cyclone Yaas Update: भीषण हुआ चक्रवाती तूफान ‘यास’, राहत के लिए वायुसेना, NDRF तैयार, रेलवे ने रद्द की 25 ट्रेनें

मौसम विभाग के मुताबिक तूफान से ओडिशा के केंद्रपाड़ा, भद्रक, जगतसिंहपुर, बालासोर, मयूरभंज सबसे ज्यादा प्रभावित होंगे. यास तूफान के खतरे को देखते हुए समंदर किनारे रहने वालों को सुरक्षित जगह पर भेज दिया गया है. एनडीआरएफ की टीमें पूरी तरह से अलर्ट है.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow