इनकम टैक्स और रिटर्न फाइल करने की बढ़ी अंतिम तिथि, अब इस दिन तक करा सकेंगे जमा - Naya India
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

इनकम टैक्स और रिटर्न फाइल करने की बढ़ी अंतिम तिथि, अब इस दिन तक करा सकेंगे जमा

New Delhi: कोरोना के कारण देश में एक बार आर्थिक गतिविधियों में काफी फर्क पड़ा है. देश में संपूर्ण लॉकडाउन तो नहीं लगाया गया है लेकिन इसके बाद भी देश के कई राज्यों में लगाए गये प्रतिबंधों के कारण देश के व्यापारियों की हालत खराब है. इन सबके बीच केंदआ सरकार की ओर से Tax देने वालों को बड़ी राहत दी है. जानकारी के अनुसार वित्त वर्ष 2020-21 (एसेसमेंट ईयर 2021-22) के लिए इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल करने की समय सीमा दो महीने बढ़ा दिया गया है.  इस संबंध में जानकारी दे दी गई है. सरकार का कहना है कि देश में अभी भी कोरोना का प्रकोप बरकरार है. यहीं कारण है कि लोगों को कुछ राहत देने का प्रयास किया जा रहा है. हालांकि बता दें कि चाजा जानकारी के अनुसार 1 से 6 जून तक आयकर विभाग का ई-फाइलिंग वेब पोर्टल बंद रहेगा.  इसलिए लोगों को चाहिए कि वे  अभी से ही इसकी प्लानिंग कर लें.

छूट के बाद अब 30 सितंबर तक रिटर्न भर सकेंगे

इंडिविजुअल टैक्सपेयर्स को अब दी गकई छूट के बाद से वे अब  अब 30 सितंबर तक अपना इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल कर सकेंगे. सरकार की ओर से दी गई जानकारी में कहा गया है कि कि “CBDT ने इनकम टैक्स एक्ट, 1961 के सेक्शन 119 के तहत अधिकारों का इस्तेमाल करते हुए इनकम टैक्स रिटर्न भरने की समय सीमा बढ़ा दी है. इससे पहले इनकम टैक्स डिपार्टमें टैक्स के जुड़े कई तरह के कंप्लायंस की समयसीमा बढ़ा चुका है. कहा गया है कि ऐसा कोरोना काल में बाजार के प्रभावित होने का कारऩ किया गया है.

रिटर्न फाइल करने की बढ़ी अंतिन तारिख

बता दें कि टैक्स के साथ ही अब सरकार द्वारा रिटर्न फाइल करने की अंतिम तिथि को भी बढ़ा दिया गया है.  CBDT ने कंपनियों के लिए भी Income Tax Return (ITR) दाखिल करने की समयसीमा एक महीना बढ़ा दी है. अब कंपनियां 30 नवंबर तक पिछले वित्त वर्ष का इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल कर सकेंगी. बता दें कि  सामान्य तौर पर कंपनियों को हर साल 31 अक्टूबर तक पिछले वित्त वर्ष का इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करना पड़ता था . पिछले साल भी इसी बार की तरह ITR दाखिल करने की समयसीमा बढ़ा दी गई थी.

इसे भी पढें-  Chandra Grahan 2021: साल 2021 का पहला चंद्र ग्रहण 26 मई को, भारत में कितना होगा असर, जानें सूतक काल के बारे में

टैक्स देने वालों को मिलेगा लाभ

केंद्र सराकर की इस योजनाी का लाभ टैक्स देने वाले लोगों को भी मिलेगा. कर्मचारियों को फॉर्म-16 जारी करने की समयसीमा भी एक महीना तक बढ़ा दी है। अब कंपनियां 15 जुलाई तक अपने कर्मचारियों को फॉर्म-16 जारी कर सकेंगी.इसके साथ ही टैक्स ऑडिट रिपोर्ट और ट्रांसफर प्राइसिंग सर्टिफिकेट दाखिल करने की समयसीमा भी एक महीना बढ़ा दी गई है.  अब इसे 31 अक्टूबर तक दाखिल किया जा सकता है।

इसे भी पढें- Covaxin या Covishield किस वैक्सीन से बनती है जल्दी एंटीबॉडी..ICMR प्रमुख ने किया चौंकाने वाला दावा

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Bangladesh Sheikh Hasina’s Statement : शेख हसीन भूल गईं पिता की बात, उन्होंने कहा था- मैं अपनी खाल भी उतार कर भारत को दे दूं तो…
Bangladesh Sheikh Hasina’s Statement : शेख हसीन भूल गईं पिता की बात, उन्होंने कहा था- मैं अपनी खाल भी उतार कर भारत को दे दूं तो…