हरियाणा में हर तीन माह में जिला स्तर पर लगेंगे रोजगार मेले

सिरसा। हरियाणा के युवाओं को रोजगार देने के लिए गठबंधन सरकार पूरी तरह से गंभीर है और इसी दिशा में आगे बढ़ते हुए प्रदेश में हर तीन माह बाद रोजगार मेले लगाने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि इन रोजगार मेलों में निजी कंपनियां जिला मुख्यालयों पर आकर बेरोजगार युवकों को नौकरी देगी।

चौटाला चौ. देवीलाल विश्वविद्यालय में आयोजित प्रदेश कार्यकारिणी की बैठक के बाद पत्रकारों से रूबरू हो रहे थे। उन्होंने कहा कि जजपा ने अपने घोषणा पत्र में प्रदेश के युवाओं को रोजगार देने के लिए प्रदेश भर में रोजगार मेले लगाने का वायदा किया था।

इसे भी पढ़ें : ओबीसी आरक्षण का राज्य सभा में उठा मुद्दा

इसी वायदे को निभाते हुए भाजपा-जेजेपी गठबंधन सरकार ने बहुराष्ट्रीय निजी कंपनियों के साथ मिलकर रोजगार मेले का आयोजन करने का फैसला किया है। इसके लिए युवाओं को पहले ऑनलाइन पंजीकरण करवाना होगा। उपमुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी रोजगार अधिकारियों को रूपरेखा तैयार करने के निर्देश दे दिए हैं। उन्होंने बताया कि पन्नीवाला मोटा स्थित चौ. देवीलाल इंजीनियरिंग कालेज में प्रदेश का पहला स्किल सेंटर खोला जाएगा जिससे इस क्षेत्र के युवाओं को रोजगार में मदद मिलेगी।

उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि दस साल तक प्रदेश की जमीन लूटते रहे और अब वे अपनी सियासी जमीन तलाश रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा में कांग्रेस के दस साल के राज में 73 हजार एकड़ जमीन किसानों से छीन कर सीएलयू दी गई। देश व प्रदेश के लोग टू-जी, थ्री जी एवं जीजा-जी के घोटालों को अभी तक भूले नहीं है। वह दावे करने में नहीं बल्कि काम करने में यकीन रखते हैं और जल्द ही प्रदेश में यह बदलाव नजर आने लगेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares