nayaindia ग्राम राज्य हासिल किये बिना राम राज्य की स्थापना संभव नहीं: वेंकैया - Naya India
ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

ग्राम राज्य हासिल किये बिना राम राज्य की स्थापना संभव नहीं: वेंकैया

विजयवाड़ा। उपराष्ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने विकास के विकेंद्रीकरण और ग्रामीण क्षेत्रों के विकास पर अधिक ध्यान देने की आवश्यकता पर जोर देते हुए आज कहा कि ग्राम राज्य हासिल किये बिना राम राज्य की अवधारणा पूरी नहीं होगी।

नायडू ने पश्चिम गोदावरी जिले के ताडेपल्लीगुडेम में राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) के पहले दीक्षांत समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि विकास को विकेंद्रीकृत और वितरित करना होगा। उन्होंने कहा कि भारत की शहरी आबादी 2020 में 5.17 करोड़ तक पहुंच जाएगी और यह 2050 तक सात करोड़ को पार कर जाएगी।

देश के शहरों में क्षमता से अधिक लाेग रह रहे हैं और उनकी स्थिति दमघोंटू हो गयी हैं, शहर सिकुड़ते जा रहे हैं और ग्रामीण क्षेत्रों को विकसित करने की आवश्यकता है। उपराष्ट्रपति ने कहा कि ग्राम राज्यम को हासिल किये बिना राम राज्यम की अवधारणा पूरी नहीं होगी। उन्होंने कहा, “हमारे सबसे समृद्ध शहरों में बड़े पैमाने पर झुग्गियां भी हैं। हमारे शहरों को समावेशी और सतत रूप से विकसित होना चाहिए। हमें स्थायी आवास, पेयजल, सार्वजनिक परिवहन के समाधान खोजने चाहिए और शहरों में भारी आय के अंतर को पाटने के लिए आर्थिक अवसर प्रदान करना चाहिए।”

उन्होंने कहा कि शहरों में स्थायी अपशिष्ट प्रबंधन समाधान और अपशिष्ट से धन अर्जन की पहल को अपनाना चाहिए। नायडू ने कहा कि तकनीकी उन्नति का अंतिम लक्ष्य आम आदमी का जीवन बेहतर बनाने का होना चाहिए। उन्होंने कहा कि उन्हें हमारे समय की सबसे बड़ी समस्याओं के समाधान की खोज करनी चाहिए। भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान और एनआईटी जैसे संस्थानों को नवाचार का केंद्र बनना चाहिए। इन संस्थानों को प्रत्येक छात्र की संभावनाओं की पहचान करनी चाहिए तथा उनका सर्वश्रेष्ठ बाहर निकालने के लिए प्रयास करना चाहिए। तकनीकी शिक्षा प्रदान करने वाले संस्थानों को नवीनतम तकनीकों के साथ पढ़ाने और प्रयोग करने में कभी संकोच नहीं करना चाहिए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

thirteen − six =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
कोश्यारी के खिलाफ शिंदे गुट
कोश्यारी के खिलाफ शिंदे गुट