एक लाख टेस्ट प्रतिदिन का हो हर संभव प्रयास: योगी - Naya India
ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

एक लाख टेस्ट प्रतिदिन का हो हर संभव प्रयास: योगी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 के 1 लाख टेस्ट प्रतिदिन करने के लिए सभी प्रयास सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि योजनाबद्घ ढंग से कार्य करते हुए इस लक्ष्य की प्राप्ति के लिए हर सम्भव प्रयास किए जाएं। मुख्यमंत्री योगी आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि कोविड-19 के एक लाख टेस्ट प्रतिदिन किये जाने के हर संभव प्रयास किए जाने चाहिए। करीब 36 लाख टेस्ट के साथ देश में कोविड-19 की सर्वाधिक टेस्टिंग करने वाला राज्य बनने पर संतोष व्यक्त करते हुए उन्होंने टेस्टिंग गतिविधियों को पूरी क्षमता से संचालित करने के निर्देश भी दिए हैं।

उन्होंने कहा कि इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेन्टर को पूरी सक्रियता से क्रियाशील रखा जाए। सभी आवश्यक मेडिकल उपकरणों एवं मानव संसाधन की व्यवस्था सुनिश्चित करते हुए एल-2 एवं एल-3 कोविड अस्पतालों के बेड्स बढ़ाए जाएं।

मुख्यमंत्री योगी ने लखनऊ , कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी, गोरखपुर तथा बरेली में विशेष सतर्कता बरतते हुए चिकित्सा व्यवस्था को और बेहतर करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा बरेली में 300 बेड्स का डेडिकेटेड कोविड अस्पताल शीघ्र क्रियाशील किया जाए। उन्होंने कोविड मरीज का त्वरित उपचार सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कहा कि कोरोना संक्रमित रोगी की स्थिति को देखते हुए उसका इलाज एल-1, एल-2 अथवा एल-3 कोविड चिकित्सालय में किया जाए।

उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूल-कॉलेजों में ही प्रतियोगी परीक्षाओं के केन्द्र बनाए जाएं। इन परीक्षाओं के संचालन में सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण पालन कराते हुए यह सुनिश्चित किया जाए कि अभ्यर्थी एवं परीक्षा कार्य से जुड़े सभी लोग मास्क का प्रयोग अनिवार्य रूप से करें। उन्होंने परीक्षा केन्द्रों पर सेनिटाइजर की व्यवस्था भी सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
सुप्रीम कोर्ट ने जस्टिस (सेवानिवृत्त) इंदु मल्होत्रा ​​को पीएम मोदी की सुरक्षा चूक की जांच का नेतृत्व करने के लिए नियुक्त
सुप्रीम कोर्ट ने जस्टिस (सेवानिवृत्त) इंदु मल्होत्रा ​​को पीएम मोदी की सुरक्षा चूक की जांच का नेतृत्व करने के लिए नियुक्त