• डाउनलोड ऐप
Saturday, May 15, 2021
No menu items!
spot_img

फेक आईडी बनाकर शारीरिक संबंध बनाने के बनाता था दबाव , 8वीं की छात्रा ने सिखाया सबक

Must Read

देश भर में लड़कियों और महिलाओं के खिलाफ लगातार अपराध बढ़ते जा रहे हैं. सड़क चलती लड़कियों से इंटरनेट में भी इन्हें शिकार बनाया जा रहा है. ताजा मामला एक 8 वीं में पढ़वे वाली छात्रा से जुड़ा है जिसके हिम्मत करने से 25 वर्षीय आरोपी को गिरफ्तार किया गया है. बताया जा रहा है कि आरोपी पह पहले से छेड़खानी के केस चल रहे हैं. इसके पहले उनसे अबतक 6 और लड़कियों कोे परेशान किया है. लेकिन इस बार एक 8वीं की छात्री ने ना सिर्फ उसे सबक सिखाया है बल्कि पुलिस के हाथों के गिरफ्तार भी करवा दिया है.

क्या है मामला

जानकारी के अनुसार दिल्ली का एक 8 वीं की छात्रा को मनचला युवक परेशान किया करता था.छात्रा ने परेशान होकर ये बाक जब छात्रा मे अपने साथ में पढञने वाली सहेली को बताई तो उसने मनचले को फोन कर जबकर झाड़ लगाई. लेकिन इसके बाद भी आरोपी नहीम सुधरा और उसने  दूसरी छात्रा के नाम पर फेक आईडी बनाकर लोगों को  आपत्तिजनक संदेश भेजने लगा. साथ ही  छेड़छाड़ से तैयार की गईं उसकी निर्वस्त्र तस्वीरें साझा करने  लगा. इसके बाद भी छात्रा नोे हार नहीं मानी और अपनी मां के साथ थाने जाकर पुलिस को सबकुछ बता दिया.

फरीदाबाद में पहले से दर्ज है छेड़खानी का मामला

इस पूरे मामले को सुनने के बाद  पुलिस ने आरोपी युवक को गिरफ्तार कर लिया. पुलिस के अनुसार आरोपी व्यक्ति छात्रा से बदला लेना चाहता था, क्योंकि पीड़िता ने उसकी सहेली को परेशान करने को लेकर उसे फटकार लगाई थी. पीड़िता की सहेली से आरोपी की जान-पहचान सोशल मीडिया पर हुई थी. पुलिस ने बताया कि आरोपी ने दिल्ली विश्वविद्यालय से स्नातक की पढ़ाई की है. वह एक निजी कम्पनी में पिछले दो साल से काम कर रहा था. इससे पहले वह छह लड़कियों को परेशान कर चुका था. इनमें से एक ने उसके खिलाफ फरीदाबाद में शिकायत भी दर्ज कराई थी.

पुलिसकर्मियों ने भी की छात्रा के तारीफ

आरोपी के पकड़े जाने के बाद पुलिस ने भी छात्रा की तारीफ की. पुलिसवालों  ने बताया कि बच्ची के घर वाले मामले को पुलिस नें नहीं आने देना चाहते थे. साथ ही फोन नंबर बदलकर मामले को रफा-दफा करना चाहते थे. लेकिन छात्र के जिद्द करने के बाद  घर वाले पुलिस के पास आने के लिए तैयार हुए. पुलिस के अनुसार, केएम पुर पुलिस थाने में यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण (पॉक्सो) अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था.

फेसबुक को लिखा गया था पत्र

इस संबंध में पुलिस उपायुक्त (दक्षिण) अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि जांच के सिलसिले में इंस्टाग्राम पर बने फर्जी अकाउंट की जानकारी हासिल करने के लिए फेसबुक को पत्र लिखा गया थे. उन्होंने बताया कि जांच दल ने ‘आईपी एड्रेस’की जांच की, आरोपी का पता लगाया और फिर बृहस्पतिवार को फरीदाबाद की एनआईटी कॉलोनी स्थित उसके घर से उसे गिरफ्तार किया. आरोपी ने तस्वीरें हटाने के लिए पीड़िता को उसके साथ शारीरिक संबंध बनाने को भी कहा.

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जाने सत्य

Latest News

किसान आंदोलन में भाग ले रहे शहीद भगत सिंह के भतीजे Abhay Sandhu का निधन

नई दिल्ली। देश के महान स्वतंत्रता सेनानी और शहीद भगत सिंह ( Shaheed Bhagat Singh ) के भतीजे अभय...

More Articles Like This