किसान नेताओं ने की आइशी पर मामला दर्ज किये जाने की निंदा - Naya India
ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया|

किसान नेताओं ने की आइशी पर मामला दर्ज किये जाने की निंदा

मोगा। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के विरोध में दस केंद्रीय यूनियनों के आहवान पर आज की हड़ताल में यहां किसान नेताओं ने जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) छात्र संघ प्रमुख आइशी घोष पर मामला दर्ज करने, जेएनयू और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी पर ‘सरकारी‘ हमलों की निंदा की।

भारतीय किसान यूनियन (एकता उग्राहां) ने पंजाब के 17 शहरों में रैली व प्रदर्शन का दावा किया। मोगा जिले में रैली निहाल सिंह वाला में आयोजित की गई जिसे अध्यक्ष जोगिंदर सिंह उग्राहां और महासचिव सुखदेव सिंह कोकरी ने संबोधित किया। इन नेताओं ने कहा कि मोदी सरकार की श्रमिक विरोधी नीतियों, निजीकरण, कांट्रेक्ट अथवा आऊटसोर्स नियुक्तियों के कारण बेरोजगारी बढ़ी है।

उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार न सिर्फ श्रमिक विरोधी है पर विश्वविद्यालयों में छात्रों के मामलों में हस्तक्षेप कर रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि अब यह स्पष्ट है कि मोदी सरकार अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के जरिये विश्वविद्यालयों पर कब्जा जमाना चाहती है। उन्होंने रविवार को जेएनयू में छात्रों और शिक्षकों पर हमले में घायल सु घोष ापर ही मामला दर्ज करने की आलोचना की और अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में पुलिस के छात्रों पर हमले, उन्हीं पर झूठे मामले दर्ज करने की भी आलोचना की। उन्होंने यह मामले तुरंत मामले वापस लेने की मांग की।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
तमिलनाडु : कांग्रेस, द्रमुक ने सीट बंटवारे को अंतिम रूप दिया
तमिलनाडु : कांग्रेस, द्रमुक ने सीट बंटवारे को अंतिम रूप दिया