nayaindia UP : बेटे का दर्द! कार की छत पर पिता का शव बांध दाह संस्कार करने पहुंचा बेटा, जिसने भी देखा छलक गए आंसू - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

UP : बेटे का दर्द! कार की छत पर पिता का शव बांध दाह संस्कार करने पहुंचा बेटा, जिसने भी देखा छलक गए आंसू

दिल्ली. Dead Body On Car Roof : उत्तर प्रदेश ( Coronavirus in UP ) में से हाहाकार मचा हुआ है. कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों ने राज्य के कई जिलों के अस्पतालों में ऑक्सीजन, बेड, एंबुलेंस की समस्या खड़ी कर दी है. इसी बीच आगरा में भी कोरोना का कहर जारी है और लगातार मरने वालों का आंकड़ा बढ़ता जा रहा है. ऐसे में पिता की मौत के बाद एक बेटे को जब शव को श्मशान घाट ले जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिली तो उसे मजबूरन शव को अपनी कार की छत पर बांधकर श्मशान घाट ले जाना पड़ा. बेटे की ऐसी मजबूरी देख वहां मौजूद लोगों के भी आंसू छलक गए. यहीं नहीं हालात ऐसे गंभीर है कि श्मशान घाटों पर भी अंतिम संस्कार के लिए लोगों को कई घंटे का इंतजार करना पड़ रहा है. इस दिल को झकझोर देने वाली घटना ने वहां के प्रशासन के दावों की भी पोल खोल दी है.

ये भी पढ़ें-  Uttar Pradesh : योगी सरकार बड़ा फैसला, Corona से मरने वालों का फ्री में होगा अंतिम संस्कार

पिता की मौत के गम के बीच जब बेटा पिता के शव को कार की छत पर बांधकर श्मशान पहुंचा तो भी उसकी मुश्किलें कम नहीं हुई. बेटे को यहां भी पिता के दाह संस्कार के लिए कई घंटे का इंतजार करना पड़ा. बाद में शव के अंतिम संस्कार का समय आया तो बेटे ने पिता के शव को कार की छत से उतार कर अंतिम संस्कार किया. कोरोना से बढ़ती मौतों के कारण श्मशान घाटों पर भी हालात ऐसे है कि शवों के दाह संस्कार के लिए जगह नहीं मिल रही है, वहां भी कई घंटों की वेटिंग चल रही है. आपको बता दें कि जयपुर हाउस में रहने वाले एक व्यक्ति के पिता की मौत हो गई थी. काफी प्रयासों के बाद भी उसे शव को श्मशान घाट ले जाने के लिए एंबुलेंस नहीं मिली थी.

ये भी पढ़ें- Corona Update : कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुये यूपी और कर्नाटक ने लगाया वीकेंड कर्फ्यु, जानें क्या खुला और क्या रहेगा बंद

यूपी में बड़े संकट की आहट!
महाराष्ट्र, दिल्ली में कोरोना ने कोहराम मचाया हुआ. यहां केसों की संख्या बढ़ने के साथ-साथ अस्पतालों में ऑक्सीजन और बेड्स की किल्लत भी बढ़ गई है. दिल्ली के कई अस्पतालों में ऑक्सीजन आखिरी वक्त पर पहुंच रही है, लोगों को बेड्स नहीं मिल रहे हैं. तो यही हाल यूपी के लखनऊ, वाराणसी, कानपुर समेत कई अन्य शहरों का है. नीति आयोग के अनुमान के अनुसार, अगले एक हफ्ते में उत्तर प्रदेश कोरोना संक्रमण के मामले में महाराष्ट्र को भी पीछे छोड़ सकता है. 30 अप्रेल के बाद प्रदेश में प्रतिदिन 1,19,604 नए मामले सामने आ सकते हैं.

Leave a comment

Your email address will not be published.

seventeen − 11 =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
अमेरिका में गर्भपात पर हंगामा
अमेरिका में गर्भपात पर हंगामा