Fight Against Corona : भारत को मिली रूस से मदद, दो विमान मेडिकल जरूरतों की पहली खेप लेकर पहुंचे दिल्ली

Must Read

नई दिल्ली। Fight Against Corona : भारत में कोरोना संक्रमण ( COVID 19 ) के कारण मचे कोहराम के बीच रूस से मेडिकल जरूरतों की पहली खेप गुरुवार को भारत पहुंच गई है. रूस से दो उड़ाने तड़के सुबह दिल्ली एयरपोर्ट पहुंची. रूस ने भारत को भेजी पहली खेप में 20 ऑक्सीजन कंसंटेटर, 75 वेंटिलेटर, 150 बेडसाइड मॉनिटर और दवाइयां भेजी है. इस संबंध में सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्स एंड कस्टम्स ने कहा कि एयर कार्गो और दिल्ली कस्टम्स दोनों विमानों में आई वस्तुओं का तेजी से क्लियरेंस किया जा रहा है. बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) ने शनिवार को समीक्षा बैठक में राजस्व विभाग को ऐसे उपकरणों की निर्बाध और तेज निकासी सुनिश्चित करने का निर्देश दिया था.

ये भी पढ़ें:- Corona : राजस्थान के CM Ashok Gehlot हुए कोरोना पॉजिटिव, ट्वीट कर दी जानकारी, खुद को किया आइसोलेट

Image

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने बुधवार को रुसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) से देश में कोरोना महामारी से उत्पन्न स्थितियों पर चर्चा की. इसकी जानकारी खुद पीएम मोदी ने ट्वीट कर के दी. पीएम ने कहा कि, ‘मेरे मित्र राष्ट्रपति पुतिन से आज मेरी अच्छी बातचीत हुई. हमने कोविड-19 से उत्पन्न स्थिति पर चर्चा की और इसके खिलाफ लड़ाई में रूस की ओर से दी जा रही मदद और सहयोग के लिए मैंने राष्ट्रपति पुतिन को धन्यवाद किया.’

ये भी पढ़ें:- वीवी प्रकाश के अचानक निधन से कांग्रस पार्टी में शोक की लहर, Rahul Gandhi बोले- ईमानदार और मेहनती सदस्य के रूप में किया जाएगा याद

Image

बता दें कि हाल ही में पीएम ने अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन से भी बात की थी. भारत में कोविड-19 संक्रमण के बेकाबू होने से बिगड़ी स्थिति के मद्देनजर पीएम मोदी विश्व के कई नेताओं से लगातार फोन पर चर्चा कर रहे हैं.
गौरतलब है कि अमेरिका, रूस, फ्रांस, जर्मनी, ऑस्ट्रेलिया, आयरलैंड, बेल्जियम, रोमानिया, लक्समबर्ग, सिंगापुर, पुर्तगाल, स्वीडन, न्यूजीलैंड, कुवैत और मॉरीशस सहित कई प्रमुख देशों ने भारत को कोरोना से जंग लड़ने में मदद करने के लिए मेडिकल सहायता की घोषणा की है.

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

साभार - ऐसे भी जानें सत्य

Latest News

आखिरकार हमने समझी पेड़-पौधों की कीमत, शुरुआत हुई बागेश्वर धाम से

बागेश्वर| कोरोना काल हमारे लिए सबसे बुरा दौर रहा है। लेकिन इसने हमें बहुत कुछ सिखा दिया है। कोरोना...

More Articles Like This