first woman chief justice : भारत की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश
आज खास | ताजा पोस्ट | देश| नया इंडिया| first woman chief justice : भारत की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश

जस्टिस बीवी नागरत्ना बन सकती हैं भारत की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश

जस्टिस बीवी नागरत्ना 2027 में भारत की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश बनने की कतार में हैं। मुख्य न्यायाधीश एनवी रमना के नेतृत्व में, सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम ने शीर्ष अदालत में पदोन्नति के लिए नौ न्यायाधीशों के नामों की सिफारिश की है। न्यायमूर्ति बीवी नागरत्ना वर्तमान में कर्नाटक उच्च न्यायालय की न्यायाधीश हैं। बीवी नागरत्ना की कॉलेजियम ने सिफारिश की है। उन्हें 2008 में कर्नाटक उच्च न्यायालय के अतिरिक्त न्यायाधीश और लगभग दो साल बाद स्थायी न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था। ( first woman chief justice )

also read: इंडिया का नूर, गुरूर, कोहिनूर – Virat Kohli इंटरनेशनल डेब्यू

पिता के नक्शेकदम पर चलेगी बीवी नागरत्ना

उनका एक महीने का कार्यकाल होने की संभावना है। उनकी नियुक्ति देश की न्यायपालिका के लिए ऐतिहासिक क्षण होगी। वह अपने पिता ईएस वेंकटरमैया के नक्शेकदम पर चलेंगी, जो जून 1989 और दिसंबर 1989 के बीच भारत के मुख्य न्यायाधीश थे। सिफारिशों की सूची में न्यायमूर्ति हिमा कोही और न्यायमूर्ति बेला त्रिवेदी अन्य दो महिला न्यायाधीश हैं। भारत में एक महिला मुख्य न्यायाधीश की मांग होती रही है।

भारत के लिए महिला मुख्य न्यायाधीश चुनने का समय ( first woman chief justice )

अपनी सेवानिवृत्ति से पहले भारत के पूर्व मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे ने कहा था कि भारत के लिए एक महिला मुख्य न्यायाधीश चुनने का समय आ गया है ।उन्होंने अप्रैल में कहा था कि हमारे मन में महिलाओं का हित है और हम इसे सबसे अच्छे तरीके से लागू कर रहे हैं। हमारे अंदर कोई रवैया नहीं बदला है। केवल एक चीज हमें अच्छे उम्मीदवार लाने हैं। प्रधान न्यायाधीश रमना ने पहले भी कहा था कि यह समय एक महिला के लिए न्यायपालिका का नेतृत्व करने का है। वरिष्ठ अधिवक्ता और पूर्व अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल पीएस नरसिम्हा भी सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश होंगे। पांच सदस्यीय कॉलेजियम द्वारा अनुशंसित अन्य न्यायाधीशों में न्यायमूर्ति अभय श्रीनिवास ओका, न्यायमूर्ति विक्रम नाथ, न्यायमूर्ति जेके माहेश्वरी, न्यायमूर्ति सीटी रविकुमार और न्यायमूर्ति एमएम सुंदरेश हैं। ( first woman chief justice )

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
रूस में कोरोना से रिकार्ड मौतें!
रूस में कोरोना से रिकार्ड मौतें!