Former commissioner Parambir Singh पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह निलंबित
ताजा पोस्ट | देश | महाराष्ट्र| नया इंडिया| Former commissioner Parambir Singh पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह निलंबित

पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह निलंबित

Former commissioner Parambir Singh

मुंबई। वसूली से लेकर कई किस्म के विवादों में घिरे मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह को आखिरकार महाराष्ट्र सरकार ने निलंबित कर दिया है। उनके खिलाफ कुछ अनियमितताओं और खामियों को लेकर अनुशासन की कार्रवाई शुरू की गई है। उनसे कई मामलों में पूछताछ चल रही है। काफी समय तक लापता रहने के बाद अदालत से संरक्षण मिलने पर पिछले दिनों वे मुंबई पहुंचे, जहां पुलिस की अलग अलग टीमें उनसे पूछताछ कर रही हैं। Former commissioner Parambir Singh

बताया गया है कि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को रीढ़ की सर्जरी के बाद 12 नवंबर को मुंबई के एक निजी अस्पताल से छुट्टी मिली थी, उसी दिन निलंबन आदेश को मंजूरी दी गई थी। लेकिन तब परमबीर सिंह लापता थे। अब उनके सामने आने और पूछताछ के लिए पुलिस के सामने हाजिर होने के बाद निलंबिन का आदेश आधिकारिक रूप से जारी किया गया है। जानकार सूत्रों के मुताबिक परमबीर सिंह पर लगे आरोपों में ड्यूटी से अनधिकृत अनुपस्थिति भी शामिल है।

गौरतलब है कि परमबीर सिंह महाराष्ट्र होमगार्ड प्रमुख नियुक्त किए जाने के बाद छह महीने से लापता थे। स्वास्थ्य के आधार पर उन्हें 29 अगस्त तक की छुट्टी दी गई थी, लेकिन उसके बाद भी वे ड्यूटी पर नहीं आए। उन्होंने मार्च में तत्कालीन गृह मंत्री अनिल देशमुख के खिलाफ भ्रष्टाचार और पद के दुरुपयोग के आरोप लगाए थे, जब उन्हें एंटीलिया बम कांड की घटना के बाद मुंबई पुलिस आयुक्त के पद से हटा दिया गया था। उन्होंने देशमुख पर आरोप लगाया था कि उन्होंने पुलिस अधिकारियों से मुंबई में रेस्तरां और बार से एक महीने में एक सौ करोड़ रुपए वसूलने के लिए कहा था।

इन आरोपों की जांच कर रहे आयोग ने उनको अपना बयान दर्ज करने के लिए पेश होने का निर्देश दिया था, लेकिन मई से ही लापता चल रहे परमबीर सिंह एक हफ्ते पहले ही सामने आए हैं। इस बीच महाराष्ट्र सरकार ने मंगलवार को परमबीर सिंह और बरखास्त पुलिस अधिकारी सचिन वझे के बीच हुई मुलाकात की जांच का आदेश दिया था। इन दोनों के बीच यह मुलाकात सोमवार को तब हुई, जब परमबीर चांदीवाल जांच आयोग के सामने पेश हुए। परमबीर और वझे मुंबई में अवैध वसूली के एक मामले में सह आरोपी हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
दिल्ली में बिना टीका लगाए लोग कहां से आए?
दिल्ली में बिना टीका लगाए लोग कहां से आए?