nayaindia Ashok Gehlot : गहलोत ने आवागमन को सुविधाजनक बनाने के दिए निर्देश
kishori-yojna
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| Ashok Gehlot : गहलोत ने आवागमन को सुविधाजनक बनाने के दिए निर्देश

गहलोत ने आवागमन को सुविधाजनक बनाने के दिए निर्देश

जयपुर। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने लॉकडाउन के दौरान लोगों पास जारी करने की व्यवस्था को अधिक सुविधाजनक बनाने के लिए नए दिशा-निर्देश दिए हैं, जिससे अब एक जिले से दूसरे जिले में आवागमन के लिए पास की जरूरत नहीं होगी।

गहलोत (Ashok Gehlot) ने कल देर रात लोगों को यह राहत देने का ऐलान किया।

व्यवस्था के अनुसार अब अंतर जिला एवं जिले के अंदर अनुमत गतिविधियों हेतु आवागमन के लिए किसी पास की आवश्यकता नहीं होगी। सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक यह छूट रहेगी। कर्फ्यू वाले क्षेत्रों में यह छूट नहीं मिलेगी। दूसरे राज्यों में स्वयं के वाहनों से जाने वाले लोगों को जिला कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, उपखण्ड अधिकारी, पुलिस उप अधीक्षक, तहसीलदार, आरटीओ, डीटीओ, एसएचओ पास जारी कर सकेंगे। (Ashok Gehlot)

इसे भी पढ़ें- Celebrity Vanity Vans, मशहूर हस्तियों की वैनिटी वैन

साथ ही, जिला उद्योग अधिकारी, एसई माइनिंग, महाप्रबंधक डीआईसी, रीको के जिला स्तरीय अधिकारी एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी अपने विभाग से जुड़ी गतिविधियों के लिए पास जारी कर सकेंगे। इन सभी अधिकारियों को जारी किए गए पासों की जानकारी प्रतिदिन जिला कलेक्टर को देनी होगी। (Ashok Gehlot)

दूसरे राज्यों में बस एवं ट्रेन से यात्रा के लिए जिला कलेक्टर पास जारी कर सकेंगे। कर्फ्यू एरिया के लिए केवल जिला कलेक्टर ही पास जारी कर सकेंगे। अन्य प्रदेशों से राजस्थान आने वालों के लिए संबंधित राज्य द्वारा जारी पास मान्य होगा। यदि वह राज्य राजस्थान की एनओसी मांगता है, तो संबंधित जिला कलेक्टर एनओसी जारी कर सकेंगे। दूसरे राज्यों से राजस्थान आने वाले लोगों के लिए 14 दिन का क्वारेंटीन अनिवार्य होगा।

इसे भी पढ़ें-  UP : आसाराम के आश्रम में मिला लड़की का शव, कार में ऐसी हालत में देख सन्न रह गया हर कोई

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen + 9 =

kishori-yojna
kishori-yojna
ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
महाराष्ट्र में उपचुनाव के लिए मतदान की तारीख में बदलाव
महाराष्ट्र में उपचुनाव के लिए मतदान की तारीख में बदलाव