school open in up from 1 july : कोरोना काल के बाद उत्तरप्रदेश में 1 जुलाई से होगा स्कूलों का श्रीगणेश
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया| school open in up from 1 july : कोरोना काल के बाद उत्तरप्रदेश में 1 जुलाई से होगा स्कूलों का श्रीगणेश

Good news : कोरोना काल के बाद उत्तरप्रदेश में 1 जुलाई से होगा स्कूलों का श्रीगणेश

Rajasthan Schools Reopen

उत्तरप्रदेश |  भारत में कोरोना की दूसरी लहर के बाद कोरोना के मामलों में गिरावट आनी शुरु हो गई है। इसके साथ ही भारत की अर्थव्यवस्था भी पटरी पर लौटने लगी है। पिछले मार्च 2020 से स्कूलों पर ताला जड़ा हुआ है। स्कूल खोलने पर भी विचार किया जा रहा है। कोरोना का प्रकोप कम होने के बाद उत्तरप्रदेश में 1 जुलाई से परिषदीय ( school open in up from 1 july ) विद्यालयों को खोलने की कवायद शुरू कर दी गई है। प्रशासन के निर्देशानुसार एक जुलाई से परिषदीय विद्यालयों में बच्चे नहीं जाएंगे। लेकिन शिक्षक और अन्य कर्मी स्कूल पहुंचकर प्रशासनिक कार्य निपटाएंगे, बच्चों को स्कूल नहीं बुलाया जाएगा। शासन ने कक्षा एक से कक्षा 8 तक के शिक्षकों को स्कूल संचालन की विस्तृत गाइडलाइन जारी की गई है। हालांकि इस दौरान शिक्षक व अन्य कर्मी स्कूल में कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करेंगे।

school open in up from 1 july

also read: Good news : इटली ने जीती कोरोना से जंग, घर से बाहर निकलने पर मास्क की अनिवार्यता खत्म

बच्चों को पढ़ाई में करनी होगी मेहनत ( school open in up from 1 july )

पिछले साल मार्च 2020 से स्कूल बंद होने के कारण शिक्षा व्यवस्था पटरी पर नहीं आ रही है। इससे बच्चों के नुकसान हुआ है। हालंकि ऑनलाइन क्लास हुई है। लेकिन स्कून बच्चों के लिए महत्वपूर्ण होता है। शिक्षकों के अनुसार नए सत्र में जब स्कूल खोले जाएंगे ( school open in up from 1 july ) तो बच्चों को पढ़ाई में अत्यंत मेहनत करना पड़ेगी। बच्चों में फिर से अनुशासन बनाने के लिए प्रयास करना पड़ेगा। शिक्षकों के साथ ही बच्चों को भी उतनी ही मेहनत करना पड़ेगी। संजय कुमार, प्रभारी बीएसए ने बताया कि शासन के निर्देश मिले हैं। एक जुलाई से बेसिक शिक्षा विभाग के परिषदीय विद्यालय खोले जाएंगे। शिक्षक स्कूली पहुंचकर सरकारी योजनाओं का क्रियान्वयन करेंगे। अभी कोई छात्र स्कूल नहीं जाएगा।

एक जुलाई से स्कूलों उपस्थित होंगे शिक्षक

कक्षा एक से 8 तक के सभी शिक्षक स्कूल पहुंचेंगे। स्कूलों में ई-पाठशाला के माध्यम से कक्षाओं का संचालन किया जाएगा। बच्चों को शासन के निर्देश मिलने तक स्कूल आने के लिए नहीं कहा जायेगा। बच्चों की प्रवेश प्रक्रिया भी स्कूलों में शुरू कर दी जाएगी। मिड डे मील से जुड़े छात्र-छात्राओं के खातों में धनराशि भेजी जाएगी। मिड डे मील का ( school open in up from 1 july ) खाद्यान्न बच्चों, अभिभावकों को दिया जाएगा। छात्रों के घरों पर ही निशुल्क पाठ्य पुस्तकों का वितरण कराया जाएगा। ऑपरेशन कायाकल्प की गतिविधियां भी पूरी कराई जाएंगी।

school open in up from 1 july

ऑनलाइन कक्षाओं का संचालन होगा

शासन ने निर्देश दिए हैं कि छात्रों की कक्षाओं का संचालन ऑनलाइन किया जाए। छात्रों को ई पाठशाला 4, प्रेरणा मिशन, दूरदर्शन, आकाशवाणी और व्हाट्सएप दे जोड़कर पढ़ाई का संचालन किया जाए। खंड शिक्षा अधिकारियों की जिम्मेदारी ( school open in up from 1 july ) होगी कि लगातार इसकी मॉनिटरिंग करेंगे। कोरोना काल में स्कूलों में ऑनलाइन क्लास का संचालन किया जा रहा था। लेकिन कुछ मामलों के मुताबिक घर पर रहकर ऑनलाइन क्लास को बच्चे गंभारतपूर्वक नहीं ले रहे थे। जब तक बच्चे स्कूल नहीं जाएंगे उनका जीवन पहले जैसा नहीं हो पाएगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Ponography Case में फंसे Raj Kundra की बढ़ी मुसीबत, Sherlyn Chopra ने सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप लगा दर्ज कराया केस
Ponography Case में फंसे Raj Kundra की बढ़ी मुसीबत, Sherlyn Chopra ने सेक्शुअल हैरेसमेंट का आरोप लगा दर्ज कराया केस