nayaindia गोविंदाचार्य को नीति आयोग में लाना चाहिए : सिंह - Naya India
ताजा पोस्ट | देश | मध्य प्रदेश| नया इंडिया|

गोविंदाचार्य को नीति आयोग में लाना चाहिए : सिंह

भोपाल। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने आज कहा कि वे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वदेशी आंदोलन के समर्थक रहे हैं और ‘स्वदेशी’ के लिए कार्य करने वाले के एन गोविंदाचार्य से उनकी काफी अच्छी मित्रता भी है।

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री सिंह ने यहां वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से पत्रकारों से चर्चा के दौरान मौजूदा नरेंद्र मोदी सरकार के ‘लोकल के लिए वोकल’ संबंधी नीति के बारे में पूछे जाने पर यह टिप्पणी की। सिंह ने कहा कि वे स्वदेशी पर जोर देने के कारण संघ के समर्थक रहे हैं।

इस दिशा में गोविंदाचार्य ने काफी कार्य किया है, लेकिन वर्तमान दौर में उन्हें ही अलग कर दिया गया। सिंह ने कहा कि वास्तव में ‘लोकल’ को ‘वोकल’ करना है तो गोविंदाचार्य को देश की नीतियां निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले नीति आयोग में लाना चाहिए। उन्होंने कहा कि लेकिन केंद्र सरकार ऐसा नहीं करेगी। वास्तव में स्वदेशी और आत्मनिर्भरता की विचारधारा महात्मा गांधी की विचारधारा है। यही गांधीजी का मूल मंत्र था। लोकल की बात करने वालों को हिंद स्वराज की किताबें पढ़ना चाहिए।

कांग्रेस नेता ने कहा कि मौजूदा दौर में खादी पर सब्सिडी समाप्त कर दी गयी। छोटे उद्योग धंधे बंद हो रहे हैं। बड़े उद्योगों को लाभ हाे रहा है। अमीर और अमीर हो रहा है और गरीब, गरीब होता जा रहा है। सिंह ने इसके साथ ही दलबदल कानून में बदलाव की जरुरत बताते हुए कहा कि ऐसा करने वालों के चुनाव लड़ने पर ही प्रतिबंध लगना चाहिए। इस तरह के सख्त प्रावधानों के जरिए ही दलबदल को रोका जा सकता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

1 × one =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
पेपर लीक मामले में 9 लोगों के खिलाफ आरोप-पत्र
पेपर लीक मामले में 9 लोगों के खिलाफ आरोप-पत्र