ये तो हद है ! वैक्सीन का नाम सुनते ही सरयू नदी के किनारे बसे गांव के लोग नदीं में कूदे, इस बात का था डर ... - Naya India
देश | उत्तर प्रदेश | ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

ये तो हद है ! वैक्सीन का नाम सुनते ही सरयू नदी के किनारे बसे गांव के लोग नदीं में कूदे, इस बात का था डर …

New Delhi:देश में कोरोना की दूसरी लहर से जो कहर बरसा है वो किसी से भी छिपा हुआ नहीं है. देश में कोरोना से पनपे हालात के कारण अब के कारण लोगों को वैक्सीन से ही उम्मीदें हैं. लेकिन कोरोना की वैक्सीन को लेकर अब भी देश के कई हिस्सों में लोग डर रहे हैं और वैक्सीन नहीं लेना चाह रहे हैं. ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश के बारबंकी से सामने आया है. जानकारी के अनुसार जब स्वास्थ्य कर्मियों की एक सरकारी टीम बारबंकी के एक गांव लोगों को कोरोना की वैक्सीन लगवाने के प्रति जागरूक करने पहुंची तो गांव वाले लोग डर गये और वैक्सीन की नाम सुनते ही कुछ लोग नदी में कूद गये.काफी समझाने के बाद भी लोग जब पानी से नहीं निकले तो हे स्वास्थ्य कर्मियों को मायूस होकर वापस लौटना पड़ा.

टीका लगवाने से हो जाएगी मौत…

टीकाकरण स्वास्थ्य विभाग में काम करने वाले एक अधिकारी से पूछने पर उन्होंने बताया कि गांव के लोगों की कहना है कि उन्हें डर है कि टीका लगवाने से उनकी भी मौत हो जाएगी. दरअसल इस गांव में कई बाहर से आए लोगों की अचानक से मौत हो गई है. इसी कारण ग्रामीणों में डर समा गया है कि कोरोना की टीका लेने से उनकी भी मौत हो जाएगी. वहीं अधिकारी ने बताया कि ये कुछ लोगों की बदमाशी का नतीजा है कि लोग कोरोना के टीके सी डर रहे हैं. उन्होंने बताया कि गांव के कुछ लोगों ने अफवाह फैलाई है कि टीका लगवाने के कुछ दिनों बाद इंसान की मौत पक्की है. उन्होंने बताया कि पुलिस अफवाह फैलाने वालों की जांच कर रही है और लोगों को टीका के लिए जागरूक किया जा रहा है.

इसे भी पढें- Narsingh Jayanti 2021: भगवान नरसिंह ने यहां लिया था अवतार, पत्थर के खंभे में से प्रकट होकर बचाई थी भक्त प्रहलाद की लाज

स्वास्थ्य कर्मियों को देख बच्चे कूद गये थे नदी में – डीएम

इस पूरे प्रकरण पर बाराबंकी डीएम डॉ. आदर्श सिंह ने कहा है कि सरयू नदी किनारे एक गांव में इस तरह की जानकारी मिली है. लेकिन अभी इस बात की पुष्टि नहीं की जा सकती है कि नदी में कूदने वाले लोग बड़े थे. उन्होंने कहा कि हमें जो जानकारी मिली है उसके अनुसार स्वास्थ्य विभाग के कर्मियोें को देखकर बच्चे डर गये थे और इसलिए नदी में कूद गये. उन्होंने कहा सरकार के आदेश के अनुसार गांवों में जाकर लोगों को करोना की टीके के प्रति जागरूकता कार्यक्रमों को आयोजन किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि गांव के लोगों को जानकारी दी गई है और मुखिया को बुलाकर लोगों को टीके के लिए राजी कर लिया गया है.

इसे भी पढें- We Salute You: शाम के 7 बजे पता चल गया की नहीं रही मां इसके बाद भी रातभर ड्यूटी करने के बाद ही पहुंचे घर

Latest News

राज कुंद्रा पर शर्लिन चोपड़ा का सनसनीखेज खुलासा – सेक्शुअल असॉल्ट का लगाया आरोप, जबरदस्ती किया KISS और…
Sherlyn Chopra On Raj Kundra : बिजनसमैन राज कुंद्रा अभी पुलिस की हिरासत में है और उन के खिलाफ बड़े-बड़े बयान निकलकर…

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *