Work from home के दौरान मानसिक तनाव का शिकार हो गए है तो इन तरीकों से करें दूर.. - Naya India
ताजा पोस्ट | लाइफ स्टाइल| नया इंडिया|

Work from home के दौरान मानसिक तनाव का शिकार हो गए है तो इन तरीकों से करें दूर..

कोरोना संक्रमण के खतरे से बचने के लिए लोगों ने Work from home का रास्ता अपनाया था। सभी निजी दफ्तरों में घर से ही काम किया गया था। लेकिन अब कर्मचारियों के लिए यह काम खतरा बन रहा है। जो लोग घर से काम कर रहे है वो अपनी पर्सनल लाइफ और ऑफिस के काम के बीच सामंजस्य नहीं बिठा पा रहे है। काम ज्यादा हाने की वजह से पूरे दिन काम ही करते रहते है। इस कारण घर वालों को बिल्कुल समय नहीं दे पा रहे है और ना ही अपनी निजी लाइफ के लिए कुछ कर पा रहे है। ऐसे में कर्मचारियों को मानसिक तनाव का शिकार होना पड़ रहा है। वर्क फ्रॉम होम करने वालों का ज्यादातर समय ऑफिस के काम और घर की टेंशन के बीच ही निकल जाता है। घर से काम कर लोगों का हाल ऐसा हो गया है कि खुद के लिए ही समय नहीं है। लेकिन मानसिक तनाव को दूर करने के कई तरीके है। आप मनसिक तनाव को दूर करने के लिए इन तरीकों को अपना सकते है..

  1. टाइम मैनेजमेंट सीखना होगा

वर्क फ्रॉम होम के दौरान आपको टाइम मैनेजमेंट सीखना बहुत ज़रूरी है आपको समय एडजस्ट करना आना चाहिए। आपको अपनी जॉब और घर के बीच तालमेल बिठाना होगा। क्योंकि घर वालों को भी समय देना जरूरी है। और ऑफिस का काम करना भी जरूरी है। इसके लिए आप अपने कामों को प्राथमिकता के तौर पर तय करें। जो काम बहुत जरूरी न हों उनको फ़ौरन निपटाने के लिए टेंशन न लें और उनको वीकेंड पर पूरा करें। वीकेंड अपनी फैमिली के साथ बिताएं। वीकेंड पर अपने लिए समय निकालें।

  1. सोशल मीडिया से दूरी बनाएं

वर्क फ्रॉम होम के दौरान अगर हमें कुछ समय मिलता भी है तो हम अपना फोन उठाकर सोशल साइटस चेक करने लगते है। सोशल मीडिया पर अपना समय खराब कर देते है। हम यह सोचते है कि इससे हमारे दिमाग को शांति मिलेगी लेकिन ऐसा नहीं होता है इससे हमें और टेंशन होती है। जो समय आपको काम के बीच मिलता है या आप निकाल पाते हैं, उस दौरान आप उन कामों को करने की कोशिश करें जो आपको स्ट्रेस फ्री करने में मदद करें। इस समय को अपने परिवार के साथ या उन लोगों से साथ बिताएं जिनसे बात करके आपको ख़ुशी और एनर्जी मिलती हो। खुद को आराम दें। कुछ समय तक रेस्ट कर सकते है।

  1. मेडिटेशन को अपनाएं

मेडिटेशन आपको स्ट्रेस फ्री करने में काफी हद तक मददगार साबित हो सकता है। आप स्ट्रेस को कम करने के लिए मेडिटेशन का सहारा लें। इसके लिए आप नार्मल मेडिटेशन, चॉकलेट मेडिटेशन और वॉकिंग मेडिटेशन में से किसी का भी चुनाव कर सकते हैं। मेडिटेशन आपके दिमाग को शांत करने में और लाइफ को बैलेंस करने में भी आपकी मदद करेगा। इसके साथ ही रोज़ाना आधे घंटे के मेडिटेशन से आपको काफी रिलेक्स महसूस होगा और एनर्जी भी खूब मिलेगी। सुबह के समय या शाम को काम से फ्री होकर मेडिटेशन करें। इससे आपका दिमाग भी तेज रहेगा।

Follow These Tips if You Have Difficulty in Meditating In Hindi

  1. अपनी नींद को प्राथमिकता दें

ऑफिस का काम ज्यादा होता है तो हम पूरी रात जागकर भी उस काम को करते है और पूरी होने के बाद ही उठते है। लेकिन रात में काम करने से बचना चाहिए यह हमारी बीमारी का कारण बन सकती है। हमारी आंखों के नीचे डार्क सर्कल हो सकते है। बार हम चाहें कितना भी थक जाएं लेकिन देर रात तक जाग कर काम करते रहते हैं। अगर काम से फ्री हो जाते हैं तो भी सोशल मीडिया पर समय बिताते रहते हैं या टीवी देखते रहते हैं। जबकि मेंटल स्ट्रेस से राहत पाने के लिए ज़रूरी है कि रात को जल्दी सोएं और नींद पूरी लें। इससे आपका शरीर तनाव और दिनभर के दबाव से खुद को डिटॉक्स करेगा जिससे मानसिक तनाव कम होगा और एनर्जी भी भरपूर मिलेगी।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
लखीमपुर खीरी हिंसा : प्रियंका गांधी के बाद छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल को लखनऊ एय़रपोर्ट पर रोका, वहीं धरने पर बैठ गये कांग्रेसी…
लखीमपुर खीरी हिंसा : प्रियंका गांधी के बाद छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल को लखनऊ एय़रपोर्ट पर रोका, वहीं धरने पर बैठ गये कांग्रेसी…