कोरोना मरीजों की संख्या बढना खतरनाक: नारायणसामी

पुड्डुचेरी। पुड्डुचेरी के मुख्यमंत्री वी. नारायणसामी ने आज कहा कि प्रदेश में पिछले चार दिनों के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) के मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धि होना खतरनाक साबित हो सकता है।

नारायणसामी ने यहां मीडियाकर्मियों से कहा कि केन्द्र शासित प्रदेश में 15 मई तक कोरोना के काफी कम मामले थे और अब यह बढ़कर 29 पहुंच गया है। इनमें से 26 मामले अकेले पुड्डुचेरी क्षेत्र के हैं। उन्होंने कहा कि माहे और यानम ग्रीन जोन में हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विदेशों से प्रवासी, चेन्नई से आने वाले लोग और पारिवारिक फैलाव प्रदेश में कोरोना फैलने के तीन प्रमुख कारण हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में कोरोना के फैलाव को रोकने के लिए 30 मई तक सीमाओं पर कड़ी निगरानी जारी रहेगी तथा अनाधिकृत प्रवेश वर्जित रहेगा। नारायणसामी ने कहा कि केवल लॉकडाउन से कोरोना के फैलाव को नहीं रोका जा सकता। उन्होंने लोगों से कोरोना के दिशानिर्देशों का पालन करने, मास्क पहनने, सेनीटाइजर का प्रयोग करने तथा सामाजिक दूरी बनाये रखने की अपील की है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वित्तीय विशेषज्ञों ने कहा है कि केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की ओर से देश की अर्थव्यवस्था के उत्थान के लिए घोषित 20.97 करोड़ रुपये के पैकेज में से केवल 1.75 लाख करोड़ रुपये से गरीबों का उत्थान होगा। बाकी ऋण के लिए है और यह केवल एक प्रतिशत सकल घरेलु उत्पाद (जीडीपी) विकास सुनिश्चित करेगा। उन्होंने कहा कि अगर देश के 13 करोड़ श्रमिकों के बैंक खाते में 7500 रुपये जमा किए जाते हैं, तो यह उनके लिए खरीद क्षमता सुनिश्चित करेगा और उन्हें गरीबी रेखा (बीपीएल) से ऊपर उठाएगा। लेकिन न तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और न ही श्रीमती सीतारमण को इससे कोई सरोकार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares