India Australia recognize Taliban तालिबान को भारत, ऑस्ट्रेलिया मान्यता नहीं देंगे!
ताजा पोस्ट | समाचार मुख्य| नया इंडिया| India Australia recognize Taliban तालिबान को भारत, ऑस्ट्रेलिया मान्यता नहीं देंगे!

तालिबान को भारत, ऑस्ट्रेलिया मान्यता नहीं देंगे!

नई दिल्ली। अमेरिका सहित दुनिया के ज्यादातर देशों ने अफगानिस्तान के हालात पर नजर रखने और तालिबान को मान्यता देने में जल्दबाजी नहीं करने की बात कही है। इस बीच भारत और ऑस्ट्रेलिया ने इस बात का बहुत साफ संकेत दिया है कि वे तालिबान को मान्यता नहीं देने जा रहे हैं। दोनों देशों के बीच हुई टू प्लस टू की वार्ता के बाद जारी बयान में उनकी अनिच्छा का स्पष्ट संकेत मिलता है। दोनों देशों ने यह भी कहा कि अफगानिस्तान को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि उसकी जमीन का इस्तेमाल आतंकवादी गतिविधियों के लिए न हो।  India Australia recognize Taliban

बहरहाल, दोनों देशों के साझा बयान में अफगानिस्तान में दीर्घकालिक शांति और स्थिरता सुनिश्चित करने के लिए वहां पर व्यापक और समावेशी सरकार बनाने की अपील की गई है। भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच हुई पहली टू प्लस टू वार्ता के बाद रविवार को जारी एक साझा बयान में कहा गया कि दोनों पक्ष चाहते हैं कि महिलाओं और बच्चों के अधिकारों की रक्षा हो, सार्वजनिक जीवन में उनका पूरा योगदान रहे। इसमें महिलाओं के अधिकारों के हिमायती लोगों को निशाना बनाकर की जा रही हिंसा पर भी चिंता जताई गई।

s Jaishankar prasad

Read also 9/11 की बरसी पर सामने आया जवाहिरी का वीडियो

दोनों देशों ने सभी देशों के लिए तत्काल, निरंतर, सत्यापन योग्य और अपरिवर्तनीय कार्रवाई करने की तत्काल जरूरत बताई ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि उनके नियंत्रण में किसी भी क्षेत्र का इस्तेमाल आतंकवादी हमलों के लिए नहीं किया जाए और इस तरह के हमलों के अपराधियों को जल्दी से जल्दी न्याय के कठघरे में लाया जाए। साझा बयान में कहा गया है कि ऑस्ट्रेलिया ने 26/11 के मुंबई हमले, पठानकोट और पुलवामा हमलों सहित भारत में आतंकवादी हमलों की निंदा की और आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में नई दिल्ली के लिए अपना समर्थन दोहराया।

गौरतलब है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री एस जयशंकर ने शनिवार को अपने ऑस्ट्रेलियाई समकक्षों पीटर डटन और मारिस पायने के साथ बातचीत की थी। वार्ता में, मंत्रियों ने वस्तुओं और सेवाओं में दोपक्षीय व्यापार को उदार बनाने और बढ़ाने के लिए एक अंतरिम समझौते पर दिसंबर तक शुरुआती घोषणा करने की प्रतिबद्धता को नए सिरे से दोहराया। बयान में अफगानिस्तान की स्थिति के बारे में मंत्रियों ने गहरी चिंता व्यक्त की है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Maharashtra: पुणे की सैनिटाइजर फैक्टरी में आग, 17 की मौत
Maharashtra: पुणे की सैनिटाइजर फैक्टरी में आग, 17 की मौत