nayaindia india China border despute वेंकैया के अरुणाचल दौरे से बौखलाया चीन
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| india China border despute वेंकैया के अरुणाचल दौरे से बौखलाया चीन

वेंकैया के अरुणाचल दौरे से बौखलाया चीन

नई दिल्ली। उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू के अरुणाचल दौरे से चीन बुरी तरह से बौखलाया हुआ है और उसने इस पूरे क्षेत्र पर अपना दावा जता दिया है। इस पर भारत ने भी तीखी प्रतिक्रिया दी है और चीन के बयान को बेतुका बताया है। गौरतलब है कि उप राष्ट्रपति हाल में ही अरुणाचल प्रदेश की यात्रा पर गए थे। इसे लेकर चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन ने कहा कि चीन भारत के उप राष्ट्रपति की हाल की अरुणाचल यात्रा का कड़ा विरोध करता है। लिजियन ने कहा कि चीन अरुणाचल प्रदेश को मान्यता नहीं देता है। भारत का इस इलाके पर दावा अवैध है। इस इलाके को चीन में झांगनान कहा जाता है। india China border despute

Read also राबड़ी क्या तेज प्रताप के साथ हैं?

भारत के विदेश मंत्रालय ने इस पर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि वह ऐसी टिप्पणियों को खारिज करता है। विदेश मंत्रालय ने कहा- अरुणाचल प्रदेश भारत का एक अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा है। भारतीय नेता नियमित रूप से राज्य की यात्रा करते हैं, जैसे वे भारत के किसी दूसरे राज्य में करते हैं। विदेश मंत्रालय ने चीन की इस टिप्पणी को बेतुका बताते हुए सिरे से खारिज कर दिया।

India china border dispute

Read also महाराष्ट्र ने गलत परंपरा शुरू की

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अरिंदम बागची ने कहा- भारतीय नेता नियमित रूप से अरुणाचल प्रदेश राज्य की यात्रा करते हैं जैसे वे भारत के किसी अन्य राज्य में करते हैं। भारतीय नेताओं की भारतीय भूभाग की यात्रा पर आपत्ति करना समझ से परे है। हमने चीनी की टिप्पणियों को देखा है। हम ऐसी टिप्पणियों को खारिज करते हैं। अरुणाचल प्रदेश भारत का अभिन्न और अविभाज्य हिस्सा है। बागची ने कहा- जैसा कि हमने पहले जिक्र किया है कि पश्चिमी क्षेत्र में वास्तविक नियंत्रण रेखा, एलएसी से लगे इलाकों में चीन की ओर से यथास्थिति को बदलने के एकतरफा प्रयासों के कारण ही दोनों पक्षों में गतिरोध बढ़ा है।

Read also चीन से विफल वार्ता, आगे क्या?

अरिंदम बागची ने चीन को जवाब देते हुए कहा- हम उम्मीद करते हैं कि चीनी पक्ष असंबंधित मुद्दों को जोड़ने की कोशिश करने के बजाय दोपक्षीय समझौतों और प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन करते हुए पूर्वी लद्दाख में एलएसी के साथ बाकी मुद्दों के जल्दी समाधान की दिशा में काम करेगा।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

18 − twelve =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
श्रद्धा ने दो साल पहले दर्ज कराई थी शिकायत
श्रद्धा ने दो साल पहले दर्ज कराई थी शिकायत