india china border dispute भारत-चीन वार्ता फिर बेनतीजा
ताजा पोस्ट| नया इंडिया| india china border dispute भारत-चीन वार्ता फिर बेनतीजा

भारत-चीन वार्ता फिर बेनतीजा

india china border dispute

नई दिल्ली। भारत और चीन के सैन्य कमांडरों के बीच हुई 13वें दौर की वार्ता बेनतीजा रही। रविवार को करीब आठ घंटे तक चली वार्ता में कोई फैसला नहीं हुआ है। हालांकि दोनों देशों के सैन्य अधिकारी आगे भी बात करते रहने पर सहमत हुए। वार्ता विफल होने के एक दिन बाद चीन की ओर से इसके लिए भारत को जिम्मेदार ठहराया। दूसरी ओर भारत ने चीन पर आरोप लगाते हुए कहा कि उसने भारत की ओर से दिए गए सुझावों को मानने से इनकार कर दिया। india china border dispute

Read also कोयले का संकट, शाह की मंत्रियों से बात

वार्ता के एक दिन बाद सोमवार को भारतीय सेना ने कहा- हमने वास्तविक नियंत्रण रेखा, एलएसी से सटे इलाकों और दूसरे विवादित हिस्सों को लेकर कई रचनात्मक सुझाव दिए, लेकिन चीनी सेना इस पर सहमत नहीं हुई। इस वजह से 13वें दौर की बातचीत बिना किसी नतीजे के ही समाप्त हो गई। सेना ने कहा कि बैठक के दौरान दोनों पक्षों के बीच बातचीत पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर बने गतिरोध को खत्म करने पर केंद्रित रही। एलएसी के साथ ही लंबे समय से लंबित मुद्दों में दौलत बेग ओल्डी और डेमचॉक इलाकों में बना गतिरोध भी शामिल है।

india china border dispute

india china border dispute

Read also केरल, कर्नाटक में भी डीजल सौ के पार

सेना की ओर से जारी बयान में कहा गया कि भारत ने बातचीत के दौरान कहा कि एलएसी पर गतिरोध की यह स्थिति चीन की वजह से बनी है। बयान में कहा गया है- चीनी पक्ष लगातार यथास्थिति को बदलने और दोपक्षीय समझौतों के उल्लंघन का एकतरफा प्रयास करता रहा है। ऐसे में यह जरूरी है कि चीन इन इलाकों को लेकर उचित कदम उठाए, ताकि एलएसी के साथ ही बाकी इलाकों में शांति बहाल की जा सके।

Read also उत्तराखंड में भाजपा को बड़ा झटका

भारतीय सेना ने कहा- दोनों पक्ष संवाद बनाए रखने और जमीन पर स्थिरता रखने पर सहमत हुए हैं। हमें उम्मीद है कि चीनी पक्ष दोपक्षीय संबंधों के सभी पहलुओं को ध्यान में रखेगा और दोपक्षीय समझौतों व प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन करेगा। इस तरह विवादित मुद्दों के जल्दी समाधान की दिशा में काम होगा। भारतीय पक्ष ने दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की दुशांबे में हुई बैठक का जिक्र किया और कहा कि मीटिंग से निकले नतीजों के हिसाब से ही समाधान होना चाहिए।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Rajasthan: पटवारी भर्ती परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी, ऐसे करें डाउनलोड, जानें परीक्षा का समय और पैटर्न
Rajasthan: पटवारी भर्ती परीक्षा का एडमिट कार्ड जारी, ऐसे करें डाउनलोड, जानें परीक्षा का समय और पैटर्न