भारत निश्चित रूप से महाशक्ति बनेगा: राहा

कोलकाता। पूर्व वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल (सेवानिवृत्त) अरूप राहा ने कहा है कि अगर हर भारतीय ईमानदारी से अपने मौलिक कर्तव्यों का पालन करते रहे तो देश निश्चित रूप से एक महाशक्ति बन जायेगा।

पूर्व वायुसेना प्रमुख ने कहा, भारतीयों को स्वतंत्रता संग्राम के अपने इतिहास को नहीं भूलना चाहिए। भारत का संविधान दुनिया में सबसे अच्छा है, लेकिन देश का राजनीतिक संवाद लोकतंत्र के उद्देश्यों से हट गया है।

वह 74 वें स्वतंत्रता दिवस समारोह के अवसर पर भारत चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित एक विशेष ई-सत्र में बोल रहे थे जहां सदस्यों ने ‘लेवरेजिंग ड्रीम इंडिया’ पर अपने दृष्टिकोण और विचारों को साझा किया। उन्होंने कहा, भारत ने अपनी कई कमियों के बावजूद बहुत प्रगति की है। अगर भारतीयों ने अपने मौलिक कर्तव्यों को ईमानदारी से निभाना जारी रखा, तो हम निश्चित रूप से एक महाशक्ति बन जाएंगे।

उन्होंने जोर देकर कहा कि एक भ्रष्टाचार मुक्त प्रशासन और एक सुधरी हुई न्याय व्यवस्था सपनों का राष्ट्र बनाने के लिए अपरिहार्य है। उन्होंने कहा, आत्मनिरीक्षण का दिन है इसके अलावा एक स्वतंत्र देश के लिए अपने जीवन का बलिदान देने वालों को श्रद्धांजलि देने का भी दिन है। आइए आज हम सभी प्रतिज्ञा करें कि हम राष्ट्र के जिम्मेदार और अनुशासित नागरिक होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares