शिक्षा आत्मनिर्भर भारत की सबसे मजबूत इकाई : डॉ़ निशंक

नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री डा़ रमेश पोखरियाल निशंक ने कहा है कि शिक्षा आत्मनिर्भर भारत को प्रभावी, स्थायी, सार्थक एवं सशक्त बनाने की सबसे मजबूत इकाई है।

डॉ़ निशंक ने आज वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के जरिये बठिंडा स्थित पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय के नए कैंपस का उद्घाटन के दौरान कहा, यह कैंपस 500 एकड़ में बना देश का पहला ऐसा कैंपस है जिसे पर्यावरण मैत्री एवं ऊर्जा दक्षता भवन-निर्माण के लिए पांच स्टार रेटिंग दी गई है।

केंद्रीय मंत्री ने इस अवसर पर पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय द्वारा किये गए शोध कार्यों की सराहना करते हुए कहा, शोध को आधार बनाते हुए और आत्मनिर्भर भारत की और कदम रखते हुए पंजाब यूनिवर्सिटी ने अनेक महत्वपूर्ण अनुसंधान किए हैं, चाहे वो मानव मस्तिष्क में कैंसर के फैलाव पर शोधकार्य हो या वनस्पतियों का उपयोग करते हुए बायो-हर्बीसाइड पर शोधकार्य हो, यही ‘लोकल टू ग्लोबल एप्रोच’ ही हमें आत्मनिर्भर भारत बनाएगी।

उन्होंनें कहा कि यह बेहद गर्व की बात है कि भारत सरकार द्वारा जारी एन.आई.आर.ऍफ़. रैंकिंग में 87वां रैंक प्राप्त करने वाली पंजाब केंद्रीय विश्वविद्यालय शीर्ष 100 में स्थान बनाने वाला देश का सबसे युवा विश्वविद्यालय है।

शिक्षा मंत्री ने विश्वविद्यालय के दो शिक्षकों की अंटाकर्टिका की यात्रा की प्रशंसा करते हुए कहा, मुझे जानकर बड़ा गर्व महसूस हुआ कि डॉ़ फेलिक्स बास्त व डॉ़ जितेंदर पटनायक ने 36वें इंडियन साइंटिफिक एक्सपेडिशन टू अंटाकर्टिका 2016-17 में भाग लिया और शोध हेतु अंटार्कटिका में लगभग चार माह का समय व्यतीत किया, मैं आप दोनों को बधाई देते हुए आशा करता हूं कि आप ऐसे ही आगे भी शोध करते करते रहेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares