शिक्षण संस्थानों को छात्रों से संपर्क बनाए रखने का निर्देश

नई दिल्ली। केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय के अंतर्गत आने वाले सभी स्कूल-कॉलेजों व अन्य शिक्षण संस्थानों में शैक्षणिक सत्र, परीक्षाओं एवं परीक्षाओं का मूल्यांकन स्थगित कर दिया गया है। छात्रों में अपने संस्थानों को लेकर सूचना का अभाव न रहे या कोई भ्रम न रहे, इसके लिए सभी शिक्षण संस्थानों को इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों से छात्रों के साथ संपर्क बनाने का निर्देश दिया गया है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने गुरुवार को जारी एक आदेश में सभी शिक्षण संस्थानों से अपने छात्रों और शिक्षकों के साथ इलेक्ट्रॉनिक माध्यमों से संपर्क बनाए रखने और उन्हें कोरोना संक्रमण के बारे में समुचित जानकारी देते रहने का निर्देश दिया। मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने स्पष्ट निर्देश देते हुए कहा है, सभी शिक्षण संस्थान हेल्पलाइन नम्बर और ईमेल पते अपने छात्रों को उपलब्ध कराएं, ताकि वे इस पर संपर्क कर अपने प्रश्नों के जवाब पा सकें। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) की ओर से कोरोना वायरस की रोकथाम और बचाव के मद्देनजर छात्रों के लिए परामर्श जारी किया गया है।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय के उच्च शिक्षा सचिव की ओर से जारी हुए इस परामर्श में कहा गया है, देश के सभी शिक्षण संस्थानों से कहा गया है कि वे कोरोना वायरस के फैलाव को देखते हुए पर्याप्त बचाव के उपाय करें। इन उपायों के अंतर्गत सभी विश्वविद्यालय अपने यहां चल रही परीक्षाओं को स्थगित कर दें और इनकी तिथि 31 मार्च 2020 के बाद फिर से निर्धारित करें। सभी मूल्यांकन प्रक्रियाएं भी स्थगित की जा चुकी हैं और उनकी आगे की तिथि 31 मार्च 2020 के बाद तय की जाएगी। सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों से अनुरोध किया गया है कि वे छात्रों, उनके अभिभावकों, शिक्षकों और कर्मचारियों को सलाह दें कि वे घबराए नहीं और कोरोना से निपटने के लिए सभी निवारक और एहतियाती उपाय करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares