nayaindia 20 अप्रैल से लागू होने वाले निर्देश कल होंगे जारी: जावड़ेकर - Naya India
ताजा पोस्ट| नया इंडिया|

20 अप्रैल से लागू होने वाले निर्देश कल होंगे जारी: जावड़ेकर

नई दिल्ली। सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण को दूरदर्शी और मार्गदर्शक बताते हुए लोगों से आग्रह कर कहा कि वे प्रधानमंत्री के संकल्प को मानें। उन्होंने कहा, अगर जनता सख्ती से 19 दिन और लॉकडाउन का पालन करेगी, तो कोरोना के खिलाफ जंग को जीता जा सकता है।

प्रधानमंत्री मोदी के भाषण पर बात करते हुए सूचना प्रसारण मंत्री ने कहा, “प्रधानमंत्री जनता के साथ विश्वास और संवाद कायम करने वाले नेता के रूप मे दिखे। प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में लोगों से सात सहयोग मांगा है।

इससे साफ है कि वे समाज के सभी वर्गों के प्रति चिंता रखते हैं, खासकर गरीब दिहाड़ी मजदूरों और असंगठित क्षेत्र के मजदूरों का वो खास ख्याल रख रहे हैं। जावड़ेकर ने कहा, कल यानी बुधवार को आगे 20 अप्रैल के बाद के लिए दिशा-निर्देश सरकार जारी कर देगी। लेकिन अभी से एक सप्ताह के दौरान बेहद सख्ती से लॉकडाउन का पालन करना होगा। उन्होंने जनता से अपील कर कहा कि वे खुद दिशा निदेशरें का पालन करें, अन्यथा प्रशासन को ऐसा करना पड़ेगा।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि अगले एक सप्ताह में कोरोना के खिलाफ लड़ाई में कठोरता और ज्यादा बढ़ाई जाएगी। 20 अप्रैल तक हर कस्बे, हर थाने, हर जिले, हर राज्य को परखा जाएगा। इन जगहों पर लॉकडाउन का कितना पालन हो रहा है, उस क्षेत्र ने कोरोना से खुद को कितना बचाया है आदि का मूल्यांकन किया जाएगा।परिणाम अच्छे रहने पर बुधवार को घोषित किए जा रहे नियमों को 20 अप्रैल से लागू किया जा सकता है। इसमें कुछ जरूरी गतिविधियों की अनुमति दी जा सकती है। प्रकाश जावड़ेकर ने युवा वैज्ञानिकों से आग्रह कर कहा, “प्रधानमंत्री की अपील का पालन करते हुए ज्यादा से ज्यादा शोध करें। साथ ही आम जनता आयुष मंत्रालय के सुझावों का पालन करे।

केंद्रीय मंत्री ने लोगों को यह भी याद दिलाया है कि अगर लोग 19 दिनों तक सख्ती से लॉकडाउन के नियमों का पालन करते हैं, तो फिर जिंदगी आसान हो सकती है। उन्होंने कहा, “पूरी शिद्दत के साथ इन नियमों को पालन करें। सरकार को सख्ती करने का मौका न दें, कल यानी बुधवार को सरकार की ओर से मार्गदर्शक सूचनाएं आ जाएंगी, उसके बाद यह तय होगा कि कैसे लॉकडाउन में आगे बदलाव होगा।

Leave a comment

Your email address will not be published.

twelve + twenty =

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
मेघालय हाईकोर्ट ने हिरासत में हुई मौतों पर हलफनामा मांगा
मेघालय हाईकोर्ट ने हिरासत में हुई मौतों पर हलफनामा मांगा